September 25, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

नोएडा साइबर थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर समेत 6 कांस्टेबल ने किया तीन कर्मचारी का अपहरण, छोड़ने के एवज में मांगी 5 लाख रुपये की फिरौती

सोमवार को गौतम बुद्ध नगर की थाना फेस-3 पुलिस ने भ्रष्टाचार और एक कंपनी से वसूली करने के आरोप में नोएडा साइबर क्राइम थाना में तैनात एक कांस्टेबल समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। अभी इस मामले में एक सब इंस्पेक्टर और 4 कांस्टेबल फरार है। जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

नोएडा सेंट्रल के डीसीपी हरिश्चंद्र ने बताया कि, नोएडा के सेक्टर-65 में बन्धन फाईनेन्सियल सर्विसेज लिमिटेड नाम से एक कपंनी है। कपंनी की तरफ से माजू चौहान ने नोएडा पुलिस को तहरीर देकर सूचना दी गई थी कि 10 फरवरी को 2021को मेरी कपंनी में एक टीम प्राईवेट आई थी। जो अपने आप को नोएडा साइबर थाने के पुलिसकर्मी बता रहे थे। यह पुलिसकर्मी मेरी कम्पनी के बसीम, सुहैल और परवेज को पकड़कर अपने साथ लेकर चले गये थे। जिन्हें छोड़ने के एवज में 7 लाख रूपये मांगे थे। बाद में 5 लाख रूपये में सौदा बना था। इन पुलिसकर्मी ने 2 लाख रूपये उसी दिन लेकर तीनों को छोड़ा था और 3 लाख रूपये बाद मे लगातार मांग रहे थे।

पीड़ित ने बताया कि, 14 फरवरी को इन लोगो नें हमें नोएडा स्टेडियम के गेट पर बुलाया था। इस सूचना पर पुलिस द्वारा तत्काल मामले की संवेदनशीलता को समझते हुए तत्परता से कार्यवाही करते हुये उस व्यक्ति को पकड़ा जो कि पैसे लेने के लिये आया था। उसने अपना नाम सोनू बताया था। जिसने बताया कि, उसको नोएडा के साइबर थाने में तैनात पुलिसकर्मी ने मुझे इस पैकेट को लेने के लिये भेजा था।

पूछताछ में पता चला कि, सिपाही नितिन चौधरी के साथ उस दिन साइबर थाना के उप निरक्षक चेतन प्रकाश, आरक्षी सुमित मडार, कांस्टेबल सुमित पावला, कांस्टेबल सुमित शर्मा और कांस्टेबल अतुल नागर थे। जिन्होंने 02 लाख रूपये सुहैल, परवेज और बसीम को छोड़ने के बदले लिये थे। घटनाक्रम में अब तक आरक्षी नितिन चौधरी साइबर थाना और सोनू आपस में दोस्त है। कमिश्नरेट गौतम बुद्ध नगर पुलिस द्वारा भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टोलेरेन्स की निति अपनाते हुए सम्बन्धित पुलिसकर्मी के विरूद्ध कार्यवाही की गयी है। वादी माजू चैहान सेक्टर-65 नोएडा में फर्जी फाईनेन्स कम्पनी चला रहा था। जिसके सम्बन्ध में जांच की जा रही है।

पुलिस ने इस मामले में अभी तक कांस्टेबल नितिन चौधरी और सोनू को अरेस्ट किया है। इस मामले में अभी सब इंस्पेक्टर चेतन प्रकाश साईबर क्राईम थाना नोएडा, कांस्टेबल सुमित पावला साईबर क्राईम थाना नोएडा, कांस्टेबल सुमित शर्मा, कांस्टेबल अतुल नागर और कांस्टेबल सुमित मंडार अभी फरार चल रहे है। जिनको पुलिस जल्द ही अरेस्ट कर लेगी।

Translate »