Wednesday, August 3, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

2021 में हुआ 67 तेंदुओं का शिकार, आरटीआई से खुलासा

by Disha
0 comment

नॉएडा – लॉकडाउन और कोरोना के बावजूद वर्ष 2021 में जानवरों के शिकार में कमीं नहीं आई है। कुछ समय पहले हाथियों के बढ़ते शिकार की जानकारी रंजन तोमर ने जनता के सामने रखी थी।

 

Reuters

 

इस बार विलुप्तप्राय और पर्यावरण के लिए बेहद अहम माने जाने वाले तेंदुओं के शिकार की जानकारी सामने आई है, वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो में तोमर द्वारा लगाई गई एक आरटीआई के अनुसार आम तेंदुओं और हिम तेंदुओं को मिलाकर 67 तेंदुओं का शिकार जनवरी 2021 से लेकर दिसंबर 2021 तक हुआ है।

 

मध्य प्रदेश और ओडिशा में हुआ सबसे ज़्यादा शिकार

मध्य प्रदेश में सबसे ज़्यादा 10 तेंदुओं का शिकार हुआ और 18 शिकारियों को गिरफ्तार किया गया। वहीँ दूसरे नंबर पर ओडिशा रहा जहाँ 8 तेंदुओं का शिकार हुआ और 14 शिकारी गिरफ्तार हुए। जम्मू कश्मीर में 7 शिकार हुए और एक भी शिकारी नहीं पकड़ा जा सका, वहीँ उत्तराखंड में भी 7 शिकार हुए और 11 गिरफ्तारियां हुई। छत्तीसगढ़ में भी 7 शिकार हुए और 5 गिरफ्तारियां हुई, हिमाचल प्रदेश में 6, उत्तर प्रदेश और आसाम में 5 -5 शिकार हुए जबकि कर्णाटक और पश्चिम बंगाल में 4 -4 शिकार हुए। इसके आलावा महाराष्ट्र, गोवा और बिहार में भी शिकार हुए।

तोमर ने इन आंकड़ों पर निराशा ज़ाहिर की और कहा के तेंदुओं का शिकार बदस्तूर जारी है जो बेहद दुःख की बात है, इससे भी बड़े दुःख की बात यह है कि मध्य प्रदेश जैसे राज्य में लगातार और हर प्रकार के जानवरों के शिकार की घटनाएं सबसे ज़्यादा हो रही हैं। इसपर वह वहां के मुख्यमंत्री को भी पत्र लिखेंगे।

About Post Author