January 21, 2022

MotherlandPost

Truth Always Wins!

बिना मान्यता के चल रहा नोएडा का यह नामी स्कूल, धोखाधड़ी और अवैध वसूली का भी आरोप

नोएडा के सेक्टर-40 में द खेतान पब्लिक स्कूल करीब 12 वर्षों से बिना मान्यता लिए चल रहा है। एक शिकायत के आधार पर मेरठ के मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह ने जांच का आदेश दिया। जिसमें यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। अब शिकायतकर्ता ने स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ धोखाधड़ी, जालसाजी, अमानत में खयानत, अवैध वसूली और हजारों बच्चों का भविष्य खराब करने के आरोप में आपराधिक मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

 

 

नोएडा के द खेतान पब्लिक स्कूल के खिलाफ शिकायतकर्ता ने उपमुख्यमंत्री डॉ.दिनेश शर्मा से शिकायत की थी। जब डॉ.दिनेश शर्मा नोएडा आए तो उन्होंने मेरठ के मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह को पूरे प्रकरण पर संज्ञान लेने का आदेश दिया। इसके बाद मंडलायुक्त ने द खेतान पब्लिक स्कूल की मान्यता से जुड़े दस्तावेजों और पत्रावली की जांच करवाई। मंडलायुक्त ने बेसिक शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक को जांच करने के लिए कहा था।

मेरठ के मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह ने इस मामले में संयुक्त निदेशक को पत्र लिखकर जांच-पड़ताल करने का आदेश दिया था। जिस पर संयुक्त निदेशक ने सहायक मंडलीय निदेशक को पत्र लिखा और बताया कि द खेतान पब्लिक स्कूल ने अनिवार्य शिक्षा अधिकार अधिनियम-2009 की धारा-18 के तहत मान्यता नहीं ली है। संयुक्त निदेशक ओंकार सिंह ने मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक राजेश कुमार श्रीवास को बताया कि इस मान्यता के बिना उत्तर प्रदेश में पब्लिक स्कूल की स्थापना नहीं की जा सकती है।

मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक राजेश कुमार श्रीवास ने गौतमबुद्ध नगर के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी धर्मेंद्र सक्सैना को यह पूरी जानकारी पत्र लिख कर दी। साथ ही जरूरी कार्रवाई करने का आदेश भी दिया। जेडी और एडी के आदेश मिलने के बाद जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने द खेतान पब्लिक स्कूल को नोटिस जारी किया और नोटिस का जवाब स्कूल की ओर से दिया गया है।

Translate »