September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

अपने दोनों मासूम बेटों की हत्या करने के बाद पिता ने फांसी पर लटक कर किया सुसाइड

नोएडा में एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। नोएडा के सेक्टर-49 कोतवाली इलाके में बुधवार को दो मासूम बच्चों का शव बरामद हुआ था। मंगलवार की शाम से हो दोनों बच्चे और उनके पिता लापता थे।

बुधवार की सुबह को दोनों बच्चों का तो शव बरामद हो गया था। अब शुक्रवार को पिता का शव की बरामद हुआ है। पिता का शव नोएडा के बसई गांव में एक कमरे में फांसी पर लटका हुआ मिला है। व्यक्ति के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। जिसमें लिखा हुआ है कि, उसने अपने दोनों मासूम बच्चों की हत्या करने के बाद खुद सुसाइड किया है।

दरअसल, नोएडा के सेक्टर-49 कोतवाली क्षेत्र में स्थित होशियारपुर गांव में रहने वाले 32 साल के महेश कुमार अपने 6 साल के बेटे मोनू और 3 साल के बेटे टिंका को नोएडा के ही सेक्टर-34 में स्थित ग्रीन बेल्ट में मंगलवार की देर शाम को घुमाने के लिए लेकर गए थे। काफी रात होने के बावजूद भी महेश कुमार और उनके दोनों बेटों का कुछ अता पता नहीं चल पाया था। जिसके बाद महेश के पिता ओमप्रकाश ने इस घटना की जानकारी पुलिस को डायल 112 पर कॉल करके दी थी।

बुधवार की सुबह करीब 11:30 बजे महेश शर्मा के दोनों मासूम बेटों मोनू और टिंका का शव सेक्टर-34 की ग्रीन बेल्ट में पड़ा मिला था। दोनों मासूम बच्चों की हत्या गला काटकर और हाथ की नस काट कर की गई थी। मौके से दोनों का शव बरामद हो गया था। लेकिन महेश का कोई नामोनिशान नहीं मिला था।

नोएडा के एडिशनल डीसीपी कुमार रणविजय सिंह का कहना है कि, महेश कुमार और उनके दोनों बेटों के लापता होने की रिपोर्ट बुधवार की सुबह दर्ज की गई थी। महेश कुमार के दोनों बेटों का शव बरामद हो गया था। लेकिन गुरुवार की शाम तक महेश का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया था। अब शुक्रवार को महेश कुमार का शव नोएडा के बसई गांव में एक कमरे में फांसी पर लटका हुआ मिला है। बसई गांव के एक व्यक्ति ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी थी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जब जांच पड़ताल की तो शव की पहचान होशियारपुर गांव के निवासी महेश कुमार के रूप में हुई है। पुलिस ने महेश कुमार के शव के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। जिसमें लिखा हुआ है कि, उसने अपने दोनों बेटों की हत्या करने के बाद खुद फांसी पर लटक कर आत्महत्या की है।

प्राथमिक जांच में पता चला है कि, महेश कुमार नोएडा में एक कंपनी में काम करता था। करीब डेढ़ महीना पहले उसकी नौकरी छूट गई थी। जिसके बाद महेश कुमार के ऊपर आर्थिक परेशानियों का पहाड़ टूट गया था। इसी कारण वह मानसिक तनाव में था और उसने अपने बेटों की हत्या करने के बाद खुद सुसाइड कर लिया है।

You may have missed

Translate »