October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

एयरपोर्ट, रेल व हाइवे से जुड़ेगी इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप-सीईओ

ग्रेटर नोएडा: आईआईटीजीएनएल (इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप ग्रेटर नोएडा लिमिटेड) की इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप रोज नए आयाम को छू रही है। बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस टाउनशिप की गति शक्ति योजना से जोड़कर खुले दिल से सराहना कर चुके हैं।

 

 

अब बृहस्पतिवार को एक उपलब्धि जुड़ गई है। कंपनी चेनफेंग टेक प्रा. लि. ने भूमिपूजन कर प्लांट लगाने की शुरुआत कर दी। डेढ़ साल में प्लांट बनाकर उत्पादन शुरू करने की योजना है। यह कंपनी इस प्लांट में करीब 600 करोड़ रुपये निवेश करेगी और 5000 युवाओं को रोजगार मिल सकेगा।

दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर (डीएमआईसी) और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के संयुक्त उपक्रम इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप ग्रेटर नोएडा लिमिटेड (आईआईटीजीएनएल) की तरफ से करीब 750 एकड़ में इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप बसाई गई है। इस टाउनशिप में पांच बड़ी कंपनियां जमीन ले चुकी हैं।

इनमें हायर इलेक्ट्रॉनिक्स, फॉर्मी मोबाइल, सत्कृति इंफोटेनमेंट, चेनफेंग (एलईडी कंपनी) और जे वर्ल्ड इलेक्ट्रॉनिक्स शामिल हैं। चार कंपनियां प्लांट का निर्माण पहले ही शुरू कर चुकी है।

 

 

बृहस्पतिवार को चेनफेंग कंपनी ने प्लांट लगाने की शुरुआत कर दी है। यह कंपनी एलईडी स्ट्रीट लाइट के कंपोनेंट बनाएगी। इसका एक प्लांट इकोटेक वन एक्सटेंशन वन में पहले से चल रहा है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ व आईआईटीजीएनएल के एमडी नरेंद्र भूषण इस भूमिपूजन कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्लग एंट प्ले इंफ्रास्ट्रक्चर से लैस यह टाउनशिप देश के चुनिंदा स्मार्ट टाउनशिप में से एक हैं। बुधवार को खुद प्रधानमंत्री इसकी सराहना कर चुके हैं। हर प्लॉट से पाइप के जरिए गार्बेज प्रोसेसिंग प्लांट तक पहुंचेगा और प्रोसेस होकर रिसाइकिल हो सकेगा।

उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश बीते चार वर्षों में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के मामले में 12वीं से दूसरे से दूसरे पायदान पर आ गया है। पहले पायदान पर लाने की कोशिश है। नरेंद्र भूषण ने कहा कि यह टाउनशिप जल्द ही एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस अड्डा, मेट्रो लाइन से कनेक्ट होगी।

मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट व लॉजिस्टिक हब, नोएडा एयरपोर्ट, डीएफसीसी का ईस्टर्न व वेस्टर्न रेलवे कॉरिडोर और हाइवे से यह जुड़ जाएगी। उन्होंने निवेशकों से टाउनशिप में निवेश का आह्वान किया और एक माह से भी कम समय में ग्रेटर नोएडा में औद्योगिक प्लॉट आवंटित करने के दावे को दोहराया।

 

 

कार्यक्रम में शामिल चेनफेंग कंपनी के चेयरमैन हि वेंजिऑन ने कहा कि भारत में कई औद्योगिक शहरों के भ्रमण और जानकारी जुटाने के बाद उन्होंने आईआईटीजीएनएल को चुना है। इसकी कनेक्टीविटी व इंफ्रास्ट्रक्चर सबसे बेहतर है। उन्होंने कहा कि भारत बहुत बड़ा बजार है।

यहां एलईडी से जुड़े अधिकतर प्रोडक्ट आयात किए जाते हैं। 64 हजार वर्ग मीटर एरिया में बन रहे इस प्लांट में एलईडी लाइट के कंपोनेंट तैयार किए जाएंगे। इससे ग्रीन एनर्जी को भी बढ़ावा मिलेगा। सीईओ ने कंपनी परिसर में पौधरोपण भी किया।

इस दौरान ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक एके अरोड़ा, आईआईटीजीएनएल के सचिव पतंजलि दीक्षित, चेनफेंग कंपनी के निदेशक कीर्ति डुंगरवाल व जिनजुआन वी, कंपनी सचिव पुलकित गुप्ता आदि शामिल रहे।

Translate »