May 13, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

बढ़ते कोरोना मामलों के बीच अमेरिका ने कहा सभी यात्री भारत की यात्रा करने से बचें

भारत में कोरोना संक्रमण के तेज़ी से बढ़ने के मद्देनज़र यूनाइटेड स्टेट्स की मेडिकल नियामक संस्था ‘सेंटर फ़ॉर डिजीज़ कंट्रोल’ ने ट्रैवल एडवाइज़री जारी की है।

एजेंसी ने अपने नागरिकों को भारत की यात्रा करने से बचने की सलाह दी है। CDC ने कहा है कि ‘पूरी तरह से वैक्सीनेटेड यानी वैक्सीन की पूरी डोज़ ले चुके यात्रियों को भी खतरा हो सकता है। वो वायरस के कई वेरिएंट्स से संक्रमित हो सकते हैं और फिर उसका प्रसार कर सकते हैं।’
Credit- Outlook
अपनी सलाह में एजेंसी ने जोड़ा कि यदि किसी को भारत की यात्रा करनी बेहद ज़रूरी है तो पहले उसे पूरी तरह से वैक्सीनेट हो जाना चाहिए जिससे कि वे वायरस से बच सकें।
ग़ौरतलब है कि भारत में मार्च के महीने से कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर तेज़ी से फैल रही है जिसने पूरे देश को अपनी चपेट में ले लिया है। बीते कई दिनों से समूचे देश से ढाई लाख से भी ज़्यादा नए संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं।
ख़बरों के मुताबिक़ देश में साउथ अफ्रीका, यूके, ब्राज़ील के वेरिएंट का प्रसार हो रहा है। इस दौरान वायरस में डबल म्यूटेशन भी देखा जा रहा है।
अमेरिका ही नहीं, बीते सोमवार को ब्रिटेन ने भी भारत को ‘रेड लिस्ट’ में डाल दिया है। ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हेनकॉक ने कहा, ‘ब्रिटेन की देशों की ‘रेड लिस्‍ट’ में भारत को जोड़ा जा रहा है। ब्रिटेन और आयरिश लोगों के अलावा भारत से किसी का भी आना प्रतिबंधित किया जा रहा है, इन लोगों को भी वापसी पर सरकार की ओर से मंजूर होटल में 10 दिन के लिए क्‍वारंटीन रहना होगा।’
FILE PHOTO: Britain’s Health Secretary Matt Hancock by REUTERS

 

बता दें इस फ़ैसले के कुछ घंटे पहले ही ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भारत आने की यात्रा को रद्द किया था, जिसकी जानकारी विदेश मंत्रालय द्वारा दी गयी थी।
इसके अलावा बता हांग-कांग ने भी भारत से आने वाली हर फ्लाइट को 20 अप्रैल से अगले 14 दिनों तक बैन कर दिया है।
Translate »