February 25, 2021

Truth Always Wins!

लाल किले पर झंडा फहराने वाले की तलाश में जुटी एंटी टेरर यूनिट, लेकिन परिजनों ने ….

गणतंत्र दिवस पर किसानों ने ट्रैक्टर परेड यात्रा के नाम पर जो हिंसा की है। पुलिस अब उन पर कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने दिल्ली की सड़कों पर दंगे करने वाले हर एक आरोपी की पहचान करने के लिए काफी टीम गठित की है। इसमें पुलिस को एक बड़ी जानकारी हाथ लगी है।

दिल्ली पुलिस ने बताया कि गणतंत्र दिवस पर लाल किले पर झंडा फहराने वाले युवक की  संभावित  पहचान हो गई है। जिसने लाल किले पर झंडा लगाया था। उस युवक का नाम जुगराज सिंह है। जो सिर्फ 22 साल का युवक है। यह युवक तरनतारन गांव में रहता है।  पुलिस ने बताया कि स्पेशल सेल टीम ने युवक की पहचान करके उसकी तलाश शुरू कर दी है। लाल किले पर झंडा फहराने के बाद जुगराज सिंह अंडरग्राउंड हो गया है। जिसकी तलाश में दिल्ली पुलिस की एंटी टेरर यूनिट टीम लगी हुई है।

जब जुगराज सिंह के घर पुलिस पहुंची तो वहां कुछ अलग ही नजारा देखने को मिला है। जब पूरा भारत जुगराज सिंह द्वारा लाल किले पर झंडा फहराने को लेकर निंदा कर रहा है। तो दूसरी तरफ उसका परिवार अपने बेटे की इस कार्य पर गौरव महसूस कर रहा है। युवक के पिता और दादा का कहना है कि, उनके बेटे ने बहुत ही बहादुरी का काम किया है। जिसकी वजह से वह काफी खुश हैं।

Translate »