November 27, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

पंजाब नेशनल बैंक की असिस्टेंट मैनेजर श्रद्धा गुप्ता ने लगाई फांसी, आईपीएस आशीष तिवारी समेत 4 लोगों को बताया जिम्मेदार

अयोध्या के पंजाब नेशनल बैंक की मुख्य शाखा ख़्वासपुरा में तैनात असिस्टेंट मैनेजर श्रद्धा गुप्ता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। श्रद्धा गुप्ता ने आत्महत्या करने से पहले एक सुसाइड नोट लिखा था। जिसमें उन्होंने एक आईपीएस अधिकारी समेत चार लोगों को अपनी मौत का जिम्मेदार बताया है।

 

Credit- Outlook India

 

पुलिस ने श्रद्धा गुप्ता के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वही मौके से मिले सुसाइड नोट को भी फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक, लखनऊ की रहने वाली श्रद्धा गुप्ता ने 2015 में अयोध्या में स्थित पंजाब नेशनल बैंक की ख़्वासपुरा मुख्य शाखा में क्लार्क के रूप में ज्वाइन किया था। बाद में उनका प्रमोशन हो गया और वह असिस्टेंट मैनेजर बन गई। श्रद्धा गुप्ता बैंक के सामने एक बिल्डिंग में अकेली रहती थी। वह लगभग रोजाना ही अपने परिवार से बातचीत करती थी। बैंक के सामने वाली बिल्डिंग में श्रद्धा गुप्ता ने किराए पर कमरा लिया था।

एसएसपी शैलेंद्र पांडे ने बताया कि, शनिवार की सुबह श्रद्धा गुप्ता के घर दूधवाला पहुंचा तो उसने खिड़की से श्रद्धा गुप्ता का शव पंखे से लटका देखा। जिसके बाद दूध वाले ने तत्काल इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दरवाजा तोड़ा और श्रद्धा गुप्ता के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर एसएसपी शैलेंद्र पांडे ने फॉरेंसिक टीम बुलाई और जांच पड़ताल शुरू की।

मौके पर आला अधिकारी पहुंच गए थे। जब श्रद्धा गुप्ता के कमरे की तलाशी ली गई तो उसमें एक सुसाइड नोट बरामद हुआ। जो इंग्लिश में लिखा हुआ था और सुसाइड नोट में 4 लोगों को जिम्मेदार बताया गया है। श्रद्धा गुप्ता ने यह सुसाइड नोट अपने पापा मम्मी के नाम लिखा है।

 

 

श्रद्धा गुप्ता ने सुसाइड नोट में राजेश, विवेक तिवारी, अनिल रावत और आशीष तिवारी का नाम लिखा है। इसमें से आशीष तिवारी एसएसएफ हेड लखनऊ है। पुलिस ने कमरे से मिले सुसाइड नोट को कब्जे में लेकर फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है।

इस मामले में एसएसपी शैलेंद्र पांडे का कहना है कि, मामले की जांच काफी गंभीरता पूर्वक की जा रही है। बैंक में तैनात अन्य कर्मचारियों और अधिकारियों से भी बातचीत की गई है। जांच में यह भी पता चला है कि श्रद्धा पांडे शुक्रवार को बैंक में नहीं गई थी। पुलिस और भी अहम सुराग निकालने में जुट गई है। इस मामले में की टीमें गठित की गई है। एसएसपी शैलेंद्र पांडे का कहना है कि अगर जरूरत पड़ी तो हम आशीष तिवारी से भी बातचीत करेंगे।

Translate »