May 13, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

लॉकडाउन की घोषणा होते ही दिल्ली में शराब के ठेकों का बुरा हाल, लोग ठेकों पर टूट पड़े, पुलिस हालत संभालने के लिए पहुँची

देश की राजधानी दिल्ली में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली में अब सोमवार की रात यानी आज रात 10:00 बजे से लेकर 26 अप्रैल की सुबह 7:00 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन लागू रहेगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और दिल्ली के उपराज्यपाल ने यह फैसला लिया है। इस फैसले के बाद ही दिल्ली में हलचल मच गई है। दिल्ली की जनता दुकानों पर टूट पड़ी है। सबसे ज्यादा बुरा हाल शराब के ठेकों का है।

 

दिल्ली में शराब के ठेकों पर भीषण भीड़ लग गई है। लोग शराब खरीदने के लिए टूटकर पड़े हैं। हालत यह हो गई है कि, शराब की दुकानों पर पुलिस फोर्स पहुंच गई है। पुलिस लगातार भीड़ को संभालने की कोशिश कर रही है। लेकिन लोग अंधाधुन एक दूसरे के ऊपर शराब के लिए टूट पड़े हैं। लेकिन लोगों के इस काम से कोरोना रुकेगा नहीं, बल्कि और बह ज्यादा फैलेगा।

दिल्ली में आज रात 10:00 बजे से शुरू होकर 26 अप्रैल की सुबह 7:00 बजे तक लॉकडाउन लागू रहेगा। ऐसे समय में से आवश्यक लोगों को ही आवागमन की अनुमति मिलेगी। जरूरी सामान जैसे पेट्रोल पंप और बैंक संबंधी सेवा सुधरेगी। सभी एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन भी खुले हुए रहेंगे। आप दिल्ली में बसों में भी यात्रा कर सकते हैं। लेकिन शर्त यही है कि सिर्फ 50 प्रतिशत ही लोग बस में एक बार में यात्रा कर सकते हैं। इसके अलावा सभी प्राइवेट ऑफिस और कंपनियां बन रहेंगी। सरकारी कार्य लगातार चलता रहेगा।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि, उन्होंने लॉकडाउन इसलिए लगाया है। ताकि वह 26 अप्रैल तक दिल्ली में मेडिकल व अन्य कोरोना के संबंधित उपचार के लिए सामान की व्यवस्था कर सकें। इसके लिए उन्होंने केंद्र सरकार को आवश्यक सामान के लिए पत्र भी भेजा है। उन्होंने कहा कि इस दौरान दिल्ली में लोगों की सेवा के लिए पूरी कोशिश की जाएगी। दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए कोविड बेड बढ़ाने के लिए यह समय लिया गया है। इसलिए कोई भी व्यक्ति बिना किसी वजह के अपने घर के बाहर ना निकले। दिल्ली सरकार के आदेशों का पालन करें।

Translate »