September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

‘वे साँवले थे’, बीजेपी केंद्रीय मंत्री के रवींद्रनाथ ठाकुर पर बयान से मचा हंगामा

केंद्रीय मंत्री सुभाष सरकार ने नोबेल पुरस्कार विजेता गुरुदेव रवींद्रनाथ ठाकुर पर एक ऐसा विवादित बयान दिया है जिसपर हंगामा मच गया है। उन्होंने कहा कि गुरुदेव की माँ का व्यवहार उनके साथ इसलिए अलग था क्योंकि वे साँवले थे।

 

 

दरअसल सुभाष सरकार गुरुदेव द्वारा ही स्थापित विश्व भारती यूनिवर्सिटी पहुंचे थे जहाँ उन्होंने कहा कि ‘टैगोर की मां ने उनके साथ भेदभाव किया क्योंकि उनकी त्वचा का रंग गोरा नहीं था। परिवार के बाकी लोगों की तुलना में उनके रंग पर लाल रंग की आभा थी।’ उन्होंने भी दावा किया कि टैगोर की मां और कुछ अन्य रिश्तेदार उन्हें अपनी गोद में नहीं उठाते थे, क्योंकि वह सांवले थे।

मंत्री ने समाचार एजेंसी पीटीआई को उन्होंने बताया कि ‘दो प्रकार गोरी त्वचा वाले लोग होते हैं। एक जो पीली आभा के साथ बहुत गोरे होते हैं। दूसरे वो जो गोरे होते हैं, लेकिन लाल आभा के साथ। टैगोर दूसरी श्रेणी में थे।’

उनकी इस टिप्पणी पर गुरुदेव के समर्थकों, प्रशंसकों और कई विपक्षी नेताओं ने विरोध जताया है। यही नहीं इस यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर विद्युत चक्रवर्ती भी विरोध का शिकार हो रहे हैं क्योंकि वे भी इस कार्यक्रम का हिस्सा थे।

लेकिन इनसब पर बीजेपी अपने केंद्रीय मंत्री के साथ खड़ी है। पार्टी का कहना है कि उनके मंत्री की टिप्पणी को अलग संदर्भ में लिया गया।

Translate »