October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

दादरी में मिहिर भोज की प्रतिमा पर योगी आदित्यनाथ समेत भाजपा नेताओं के नाम पर कालिख पोतने पर 150 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मंगलवार को दादरी में स्थित सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा पर कुछ लोगों ने कालिख पोत दी। इस मामले में गुर्जर विद्या सभा के पदाधिकारी की शिकायत पर पुलिस ने डेढ़ सौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि, जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर कड़ा एक्शन लिया जाएगा।

 

आपको याद दिला दें कि 22 सितंबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दादरी में सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया था। लोगों का कहना था कि प्रतिमा का अनावरण करते समय उससे ठीक पहले प्रतिमा पर लिखें गुर्जर शब्द को हटा दिया गया। यह बात आग की तरह पूरे प्रदेश में फैल गई। स्थानीय विधायक और भाजपा नेताओं के खिलाफ गुर्जर समाज के लोगों में रोष व्याप्त हो गया।

मंगलवार की सुबह भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर ने दादरी में पहुंचकर सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। जिस समय राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए, उस समय प्रतिमा की शीलापट पर बड़े-बड़े शब्दों में गुर्जर प्रतिहार सम्राट मिहिर भोज लिखा हुआ मिला।

इसके बाद स्थानीय गुर्जर नेता, समाजवादी पार्टी के जिला उपाध्यक्ष और अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा के जिला अध्यक्ष श्याम सिंह भाटी अपने साथियों के साथ सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा पर पहुंचे। उन्होंने यह कहते हुए सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा को गंगाजल से स्नान करवाया कि, भाजपा नेताओं ने और योगी आदित्यनाथ ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा को अशुद्ध किया है।

इसके बाद श्याम सिंह भाटी ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा पर लगे शिलापट पर लिखें उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नगर और स्थानीय विधायक तेजपाल नागर के नाम पर कालिख पोत दी। इस मामले में गुर्जर विद्या सभा के सचिव रामचंद्र वर्मा ने 150 लोगों पर मुकदमा दर्ज करवाया है।

Translate »