April 11, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम और 3 महिला समेत पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज, लगे गंभीर आरोप

ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी में तैनात पूर्व जीएम रविंद्र तोगड़ समेत पांच लोगों के खिलाफ कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज किया गया है। यह मुकदमा ग्रेटर नोएडा के इकोटेक-3 कोतवाली में दर्ज किया गया है। रविंद्र तोगड़ ने एक अन्य व्यक्ति और 3 महिलाओं के साथ करोड़ों रुपये का फर्जीवाड़ा किया है।
मिली जानकारी के अनुसार ग्रेटर नोएडा के तुस्याना गांव में ग्राम समाज की जमीन थी। जिसका क्षेत्रफल 170 बीघा था। इस जमीन पर इलेक्ट्रॉनिक सिटी बसाने के लिए सरकार ने काफी समय पहले मंजूरी दी थी। हालांकि सरकार की मंजूरी के बावजूद भी इस जमीन पर इलेक्ट्रॉनिक सिटी नहीं बसाई गई थी। जिसके बाद इलेक्ट्रॉनिक सिटी बसाने की मंजूरी को 2006 में खारिज कर दिया गया था।
आरोप है कि उस समय ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के जीएम रविंद्र तोगड़ थे। उन्होंने इस करोड़ों रुपए की जमीन पर फर्जीवाड़ा कर अपने रिश्तेदार राजेश सिंह, उनकी बेटे की पत्नी श्वेता सिंह, मधु सिंह और दिल्ली में रहने वाली गीता सिंह के नाम कर दी थी।
इस मामले में तुस्याना गांव के निवासियों ने प्राधिकरण के अधिकारियों से इस मामले की शिकायत की। लेकिन अपने पूर्व जीएम के इस फर्जीवाड़े के सामने आने के बावजूद भी अधिकारियों ने कोई एक्शन नहीं लिया। जिसके बाद ग्राम समाज के लोगों ने इस मामले में कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। कोर्ट के आदेश के बाद इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।
Translate »