September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

पेगासस मामले में जाँच के लिए होगा एक समिति का गठन, केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को दी जानकारी

पेगासस स्कैंडल मामले में अब केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को यह जानकारी दी है कि मोबाइल में सेंध लगाने वाले इस स्पाइवेयर की मदद से जासूसी के आरोपों की जाँच के लिए एक समिति का गठन किया जाएगा।

 

 

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाएं दायर की गई थीं जिसकी सुनवाई के दौरान सरकार की ओर से यह जानकारी दी गई है। इन याचिकाओं में सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में SIT जाँच की माँग की गई है। इस मामले की बाबत कई सगठनों ने भी अदालत से गुहार लगाई है।

बता दें कि पेगासस मामले के ही कारण संसद का मॉनसून सत्र हंगामे की बलि चढ़ गया। इस मुद्दे पर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार से सदन में व्यवस्थित ढंग से बातचीत की माँग कर रहा था, हालांकि कृषि क़ानून और महंगाई जैसे मुद्दे भी इन मांगों में शामिल थे। इसी कारण विपक्षी पार्टियों और केंद्र के बीच का गतिरोध लगातार बढ़ रहा था जिस कारण सदन की कार्यवाही सामान्य ढंग से नहीं हो सकी।

ग़ौरतलब है कि राज्यसभा में सत्र के अंतिम दिन मार्शलों और महिला सांसदों के बीच धक्कामुक्की को लेकर वीडियो सामने आया। वहीं रविवार को सुप्रीम कोर्ट के चीफ़ जस्टिस एनवी रमना ने भी स्वतंत्रता दिवस से जुड़े एक समारोह में संसद में उचित तरीके से चर्चा न होने को लेकर खेद जताया था।

Translate »