Saturday, October 1, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

15 दिसंबर से नहीं शुरू होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ाने, कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट की चिंता के बीच केंद्र ने टाला फ़ैसला

by Disha
0 comment

एविएशन रेगुलेटर ने बुधवार को कहा कि भारत ने नए कोरोनोवायरस वैरिएंट ओमिक्रोन से उभरते खतरे को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने का फ़ैसला फ़िलहाल टाल दिया है।

 

Reuters

 

नागरिक उड्डयन पर रेगुलेटरी संस्था द्वारा जारी एक नोटिस में कहा गया है कि केंद्र सरकार वर्तमान में वैश्विक कोरोनावायरस बीमारी (कोविड -19) की स्थिति की निगरानी कर रही है, विशेष रूप से नए ओमिक्रोन वेरिएंट के मद्देनज़र, जिसे अत्यधिक संक्रामक और सक्षम माना जा रहा है।

डीजीसीए ने एक बयान में कहा, “वैश्विक स्तर पर बढ़ती चिंताओं के मद्देनज़र, सभी स्टेकहोल्डर्स के परामर्श से स्थिति पर बारीकी से नज़र रखी जा रही है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फिर से शुरू होने की प्रभावी तारीख का संकेत देने वाला उचित निर्णय जल्द ही सूचित किया जाएगा।”

रिपोर्टों के अनुसार, अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने पर निर्णय केवल तभी लिया जाएगा जब सरकार मौजूदा महामारी की स्थिति के बीच ऐसा क़दम उठाने के लिए सुरक्षित महसूस करेगी।

इससे पहले पिछले हफ्ते, भारत सरकार ने 20 महीने के अंतराल के बाद 15 दिसंबर से निर्धारित अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल उड़ानों को फिर से शुरू करने का आह्वान किया था।

केंद्र ने 26 नवंबर को कहा था कि 15 दिसंबर को कमर्शियल अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें फिर से शुरू की जाएंगी। ये फ़ैसला गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के परामर्श के बाद लिया गया था।

हालांकि, 28 नवंबर को केंद्र ने कहा कि वह कोरोनोवायरस के ओमिक्रोन वेरिएंट से संबंधित चिंताओं पर ‘विकसित वैश्विक परिदृश्य’ की समीक्षा करने के बाद उड़ानों को फिर से शुरू करने की तारीख पर फ़ैसला लिया जाएगा। बता दें कि कोविड -19 महामारी के कारण पिछले साल 23 मार्च से भारत में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें निलंबित हैं।

About Post Author