December 2, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

चीन की अमेरिका को सीधी चेतावनी, कहा ताइवान के साथ ‘अपने बढ़ते संबंधों को तत्काल रोकें’

अमेरिका और ताइवान के बीच इस हफ़्ते हुए इकॉनमिक पार्टनरशिप डॉयलॉग के बाद चीन ने दोनों देशों के रिश्तों पर गहरी नाराज़गी जताई है। चीन ने अमेरिका को कहा कि वो ताइवान के साथ ‘अपने बढ़ते संबंधों को तत्काल रोके’।

 

Credit- REUTERS

 

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ज़ाओ लिजियान ने कहा, “चीन इसकी निंदा करता है और पूरी मज़बूती से इस तरह के संबधों का विरोध करता है।”

उन्होंने आगे कहा, “अमेरिका एक-चीन से सिद्धांत और शर्त को मानने के लिए प्रतिबद्ध है, इसलिए उसे ताइवान के साथ अपने बढ़ते रिश्ते पर तत्काल लगाम लगानी चाहिए और किसी भी रूप में ताइवान से आधिकारिक बातचीत नहीं करनी चाहिए।”

यहां चीन ने ज़ोर देकर ताइवान से किसी भी देश की कोई भी आधिकारिक बातचीत का विरोध किया है।

 

Credit- The Straits Times

 

चीन की ओर से बयान दे रहे प्रवक्ता ने कहा, “हम ये चेतावनी ताइवान को भी देते हैं कि अमेरिका या किसी भी देश से समर्थन पाने की कोशिश निश्चित ही असफल और विनाशकारी साबित होगी।”

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक़, बीते मंलवार को ताइवान और अमेरिका ने पिछले साल शुरू की गई आर्थिक वार्ता के दूसरे सत्र की बैठक की। इस बैठक में दोनों देशों ने चिप की कमीं और चीन की आर्थिक “ज़ोर-ज़बरदस्ती” पर चर्चा की।

ग़ौरतलब है कि ताइवान के साथ अमेरिका की ये बैठक, राष्ट्रपति जो बाइडन और राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच हुई एक वर्चुअल बैठक के बाद हुई है जिसमें जिनपिंग ने बाइडन को चेतावनी देते हुए सीधे लहज़े में कहा था कि जो भी ताइवान की आज़ादी का समर्थक करेगा वो आग से खेलने जैसा होगा और आग से जो खेलेगा वो जल जाएगा।

Translate »