September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

कांग्रेस ने ट्विटर अकाउंट बैन होने पर कहा, केंद्र के दबाव में उठाया जा है ये क़दम

कांग्रेस पार्टी ने यह आरोप लगाया है कि केंद्र के दबाव में उनके आधिकारिक ट्विटर अकाउंट ब्लॉक किए गए हैं। इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट भी ब्लॉक हो गया था क्योंकि उन्होंने दिल्ली की 9 वर्षीय रेप पीड़िता की तस्वीर ट्वीट कर दी थी।

 

ANI

 

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ ‘कांग्रेस के सोशल मीडिया प्रमुख रोहन गुप्ता ने कहा है कि पार्टी के एकाउंट के साथ-साथ उसके नेताओं और कार्यकर्ताओं के लगभग 5,000 खातों को ट्विटर ने ब्लॉक कर दिया है।’

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र सरकार के दबाव में आकर ट्विटर इस प्रकार कांग्रेस नेताओं के ख़िलाफ़ क़दम उठा रही है।

रोहन गुप्ता ने कहा, “ट्विटर स्पष्ट रूप से सरकार के दबाव में काम कर रहा है क्योंकि उसने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के एकाउंटों पर कुछ दिन पहले शेयर की गई उन्हीं तस्वीरों को नहीं हटाया।”

कांग्रेस पार्टी ने बताया कि ट्विटर ने पार्टी महासचिवों रणदीप सुरजेवाला, केसी वेणुगोपाल, अजय माकन, लोकसभा में पार्टी के व्हिप एम टैगोर, असम के प्रभारी और पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह और महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव के एकाउंटों को भी ब्लॉक कर दिया गया है।

ग़ौरतलब है कि बीते हफ़्ते राहुल गांधी ने दिल्ली में कथित रेप पीड़िता के परिवारवालों की तस्वीर ट्वीट की थी जिसके बाद भाजपा ने प्राइवेसी क़ानून के उल्लंघन की शिक़ायत की थी। जिसके बाद ‘राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग’ ने राहुल गांधी के ट्वीट का संज्ञान लेते हुए ट्विटर को निर्देश दिया था कि वो इस बारे में कार्रवाई करे।

Translate »