April 11, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

विपिन वानखेड़े का चुनाव आयोग को पत्र, लिखा कोरोना को भगाने के लिए चुनाव करवाओ

कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े ने चुनाव आयोग को एक अनोखी सलाह दे डाली है। वानखेड़े ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिख मध्यप्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों पर कहा कि यदि कोरोना को भागना है तो चुनाव करवाओ।
विपिन वानखेड़े ने देश में चुनाव के कारण हो रही रैलियों और उसमें शामिल भीड़ पर तंज़ कसते हुए कहा है कि अगर कोरोना इंदौर सहित पूरे मध्यप्रदेश में फैल रहा है जिससे लोगों के अंदर दोबारा लॉकडाउन का डर बैठ रहा है तो चुनाव एक बढ़िया रास्ता है। यहाँ की जनता चाहती है कि उज्जैन, देवास और इंदौर समेत पूरे राज्य में चुनाव करवाया जाए और बड़े-बड़े नेताओं की रैलियाँ हों, भीड़ भी भारी संख्या में इकट्ठी हो। अगर ऐसा होगा तो कोरोना इतने लोगों को देखकर डर से भाग जाएगा।
वानखेड़े ने चुनावी राज्यों में कोविड गाइडलाइन की धज्जियाँ उड़ाने को लेकर नेताओं और जनता पर व्यंग्य किया है। उन्होंने बंगाल और असम जैसे राज्यों पर जहाँ इन दिनों चुनाव हो रहे हैं, कटाक्ष करते हुए कहा कि इतनी भारी संख्या में भीड़ और नेताओं का कोविड गाइडलाइन के प्रति समर्पण देखकर कोरोना ने इन राज्यों में प्रवेश से इनकार कर दिया।
उन्होंने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए अन्य राज्यों में अलग-अलग दल के नेताओं की रैलियों को, कोरोना को भगाने में कारगर बताया।

बिपिन वानखेड़े का यह पत्र सोशल मीडिया में ख़ूब वायरल हो रहा है। दरअसल मध्यप्रदेश में कोरोना के कारण हालात बेक़ाबू होते नज़र आ रहे हैं। अस्पतालों में मरीज़ों के लिए बेड भी कम पड़ने लगे हैं। ऐसे में लॉकडाउन को कई ज़िलों में बढ़ाने का फ़ैसला लिया गया है। शुक्रवार को मध्यप्रदेश में कोरोना के 2091 मामले सामने आए जबकि पिछले 24 घण्टे में 9 लोगों की मौत हुई है। बता दें कि पिछले साल से अब तक मध्यप्रदेश में 2 लाख 84 हज़ार 265 लोग संक्रमित हुए हैं और इसके चलते कुल 3,937 लोगों ने अपनी जान गवाँ दी है।
Translate »