October 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

दादरी में मिहिर भोज की प्रतिमा को लेकर विवाद बढ़ा, क्षत्रिय और गुर्जर समाज के 205 लोगों पर मुकदमा दर्ज

गौतम बुद्ध नगर के दादरी में मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण करने वाले मामले में विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब इस मामले में गौतम बुद्ध नगर पुलिस भी अलर्ट हो गई है। क्षत्रिय समाज के लोगों ने रविवार को प्यावली गांव में पंचायत की थी। इस मामले में दादरी कोतवाली में क्षत्रिय समाज के कई  लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस का कहना है कि जनपद में कोरोना संक्रमण का खतरा अभी गया नहीं है। जिसके कारण जिले में धारा-144 भी लागू है। पुलिस ने किसी भी प्रदर्शन, धरना और जुलुस पर रोक लगा रखी है। फिर भी क्षत्रिय समाज के लोगों ने रविवार को कोविड-19 प्रोटोकॉल का उंल्लघन किया है। रविवार को हजारों लोगों ने पंचायत की है। जिसके कारण क्षत्रिय समाज के लोगों खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

वहीं, दूसरी और जिले में दादरी विधायक तेजपाल नागर और योगी आदित्यनाथ के होर्डिंग को भी फाड़ा गया है। गुर्जर समाज के लोगों ने जिले में लगे कई मिहिर भोज की प्रतिमा के अनावरण के लिए लगे तेजपाल नागर और योगी आदित्यनाथ के होर्डिंग को फाड़ा है। जिसमें 5 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि, जिले में अशांति कतई भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

आपको याद दिला दें कि यह मामला दादरी में स्थित सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा के अनावरण का है। दरअसल उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ 22 सिंतबर को दादरी में जिस प्रतिमा का अनावरण करने वाले है। वह महान सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा है। मिहिर भोज को लेकर दो जातियों क्षत्रिय और गुर्जर समाज के लोगों में विवाद रहता है। क्षत्रिय समाज के लोग मिहिर भोज को राजपूत और गुर्जर उनका गुर्जर जाति का बताते है। इसको लेकर दोनों जातियों में विवाद हो रहा है।

 

Translate »