April 11, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

विश्वभर में कोरोना से मौतों का आँकड़ा पहुँचा 30 लाख पार

दुनियाँ भर में कोरोना का आतंक बढ़ता जा रहा है। समाचार एजेंसी रायटर्स के द्वारा किये गए एक टैली के मुताबिक़ इस वायरस से मरने वालों का आँकड़ा 3 मिलियन यानी 30 लाख पार कर चुका है। मंगलवार को जारी की गई इस टैली में मौतों का एक बड़ा कारण वायरस के नए वैरिएंट को भी माना गया है जो वैक्सीनेशन के दौरान सभी देशों के सामने एक गंभीर चुनौती बनकर खड़ा है।

दुनियाँभर में तेज़ी से कोरोना का संक्रमण फैल रहा है, ख़ासकर भारत और ब्राज़ील से मिले ऑंखड़े डराने वाले हैं। अधिकारियों का मनना है कि एक फिर कोरोना का ख़तरनाक़ ढंग से पैर पसारना ब्रितानी और अफ़्रीकी से मिले नए वैरिएंट के कारण है।
रायटर्स टैली के अनुसार, वैश्विक कोरोनोवायरस की मृत्यु के टोल को 2 मिलियन तक पहुंचने में एक वर्ष से अधिक समय लगा लेकिन इसे हाल ही में 1 मिलियन मौतों का आँकड़ा छूने में केवल तीन महीने लगे।
रायटर्स के विश्लेषण के अनुसार, हर दिन दुनियाभर में होने वाली हर चार मौतों में से औसतन एक ब्राजील में है, जो दुनिया में सबसे ज़्यादा है।विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनोवायरस के चलते देश की गंभीर स्थिति को स्वीकार करते हुए स्वास्थ्य सेवा को गंभीरता से लेने की बात कही है।
डब्ल्यूएचओ के महामारी विज्ञानी मारिया वान केराखोव ने पिछले गुरुवार को एक ब्रीफिंग में कहा, “वास्तव में ब्राज़ील में अभी बेहद गंभीर स्थिति है, जहाँ कई राज्य ख़तरनाक़ स्थित में हैं,” साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि देश की 90% इंटेंसिव केअर यूनिट्स पूरी तरह भर चुकी हैं।
भारत ने सोमवार को COVID-19 संक्रमणों में रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज की, जो संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के बाद एक दिन में 100,000 से ज़्यादा नए मामले पोस्ट करने वाला यह दूसरा देश बन गया है।

भारत के कोरोना से सबसे ज़्यादा प्रभावित राज्य, महाराष्ट्र ने सोमवार को शॉपिंग मॉल, सिनेमा, बार, रेस्तरां और पूजा स्थलों को बंद करना शुरू कर दिया क्योंकि अस्पतालों में अब नए रोगियों के इलाज की जगह नहीं बची है।इसी सम्बंध में एक 34 वर्षीय व्यक्ति ने ऑक्सीजन न मिलने पर अस्पताल के बाहर धरना दिया था जिसके बाद उसकी मौत हो गयी थी।
सबसे ज़्यादा मौतें यूरोपीय क्षेत्रों में हो रही हैं, जिसमें 51 देश शामिल हैं, और इसका आँकड़ा लगभग 1.1 मिलियन पार कर चुका है।
यूनाइटेड किंगडम, रूस, फ़्रांस, इटली और जर्मनी सहित पाँच यूरोपीय देशों में कुल 60% मौतें हुई हैं। संयुक्त राज्य अमेरिका में दुनिया के किसी भी देश से अधिक 555,000 लोगों की मृत्यु हुई है जो दुनिया में COVID-19 के कारण होने वाली सभी मौतों का लगभग 19% है।
पिछले तीन सप्ताह से मामले बढ़ रहे हैं, लेकिन स्वास्थ्य अधिकारियों का मानना ​​है कि टिकाकरण अभियान में तेज़ी लाकर इन मौतों को रोका जा सकता है। अब तक इसकी एक तिहाई आबादी को कम से कम वैक्सीन की एक ख़ुराक़ मिल चुकी है।
रिसर्च और डेटा प्रोवाइडर फ़र्म अवर वर्ल्ड इन डेटा के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, रविवार तक कम से कम 370.3 मिलियन लोगों या वैश्विक आबादी के लगभग 4.75% लोगों को COVID-19 वैक्सीन की एक ख़ुराक़ मिली है।
हालाँकि की टीकाकरण की इस होड़ के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन लगातार देशों से ये निवेदन कर रहा है कि दुनियाँ अन्य ग़रीब देशों को वैक्सीन दान की जानी चाहिए।
Translate »