June 18, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

अच्छी खबर : DCGI ने 2 से 18 वर्ष के आयु वर्ग में COVAXIN के क्लीनिकल ​परीक्षण को मंजूरी दी।

भारत सरकार के अनुसार ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने 2 से 18 आयु वर्ग में COVAXIN के द्वितीय/तृतीय चरण क्लीनिकल ​​परीक्षण को मंजूरी दे दी है इसके लिए 525 मेडिकल वालंटियर्स के साथ भारत बायोटेक नई दिल्ली में इसका ट्रायल किया जाएगा।

भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने गहन अध्ययन के बाद विषय विशेषज्ञ समिति (SEC) की सिफारिश को स्वीकार कर लिया और Covaxin (COVID वैक्सीन) के चरण II / III क्लीनिकल परीक्षण करने की अनुमति दे दी है।

एक तरफ जहां कोरोना के दूसरी लहर चल रही है तो वहीं दूसरी तरफ कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक बड़ा कदम उठाया गया है। कोरोना वैक्सीन को लेकर सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (SEC) की सिफारिश के बाद ड्रग्स कंट्रोलर ऑफ इंडिया (DCGI) ने 2 से 18 साल के बच्चों पर कोवैक्सीन के ट्रायल की मंजूरी दे दी है यह ट्रायल भारत बायोटेक द्वारा किया जाएगा। ऑफिसियल जानकारी के मुताबिक, भारत बायोटेक COVAXIN का ट्रायल 525 वालंटियर्स पर किया जाएगा और यह ट्रायल दूसरे और तीसरे चरण में होगा। बता दें कि ट्रायल के दौरान पहली और दूसरी डोज़ 28 दिनों के अंतराल पर दी जाएगी

विस्तृत विचार-विमर्श के बाद समिति ने प्रस्तावित चरण दूसरे व तीसरे क्लीनिकल परीक्षण को कुछ शर्तों के लिए अनुमति देने की सिफारिश भी की जिसके बाद मेडिकल ट्रायल की अनुमति मिल गई। ये एक बड़ी पहल हैं क्योकी जानकारों का कहना है की अगर कोरोना की थर्ड लहर आयी तो इसका असर बच्चों पर ज्यादा होगा ।

Translate »