May 13, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

अरविंद केजरीवाल ने लगाया केंद्र पर गंभीर आरोप, कहा दिल्ली में कोरोना संक्रमण बढ़ने के बावजूद की गई ऑक्सीजन सप्लाई में कटौती

जैसे-जैसे कोरोना संक्रमण के मामलों में इजाफ़ा हो रहा है, वैसे-वैसे स्वास्थ्य व्यवस्था की चरमराती हालत पर पर भी सवाल उठ रहे हैं। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर एक बड़ा आरोप लगाया है।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को होने वाली ऑक्सीजन सप्लाई में कटौती की जा रही है, यह देखते हुए भी कि यहाँ संक्रमण के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं।

केजरीवाल ने ट्वीट कर लिखा, ‘दिल्ली ऑक्सीजन की भारी किल्लत से गुज़र रही है दिल्ली। ऑक्सीजन बढ़ते कोरोना मामलों के साथ ज़्यादा चाहिए। सामान्य सप्लाई से ज़्यादा सप्लाई बढ़ाने की जगह नॉर्मल सप्लाई भी कम कर दी गई और दिल्ली का कोटा दूसरे राज्यों को भेजा जा रहा है। दिल्ली ऑक्सीजन इमरजेंसी का सामना कर रही है।’
Credit- Business Standard
समाचार एजेंसी एनडीटीवी के मुताबिक़, “कोरोना के केस में उछाल के बीच दिल्ली सरकार के 12 अस्पतालों में कुल 1979 नॉर्मल बेड बढ़ाए गए हैं। नॉर्मल बेड की संख्या 5211 से बढ़कर 7200 हुई। इन 12 अस्पतालों में ICU बेड में 696 की बढ़ोतरी हुई।
ICU बेड की संख्या 1174 से बढ़ाकर 1870 की गई है। दिल्ली सरकार के इन 12 अस्पतालों में 219 वेंटिलेटर बेड बढ़ाए गए हैं। इनमें 656 की जगह अब 875 वेंटिलेटर होंगे, जो कोरोना मारीज़ों के लिए रिज़र्व रहेंगे।”
इसके साथ ही आपको ये भी बता दें कि पिछले 24  घण्टे में दिल्ली में कोरोना संक्रमण के 25,462 मामले सामने आए हैं। वहीं देश में इसके दो लाख साठ हज़ार से ज़्यादा केस देखने को मिले हैं।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने संक्रमण की बाबत एक प्रेस कांफ्रेंस में ये भी बताया कि राज्य में संक्रमण की दर 30 फ़ीसद पहुँच गयी है। ऐसे में ऑक्सीजन की किल्लत एक भयानक स्थिति पैदा कर रही है। सोशल मीडिया पर कुछ ऐसी तस्वीरें भी आ रही हैं जिसमें एक ही बेड पर दो मारीज़ों को ऑक्सीजन दी जा रही है। इससे संक्रमण और तेज़ी से फैलेगा जिससे बचने के रास्ते ढूँढने में केंद्र और राज्य दोनों ही सरकारें क़ामयाब होती नज़र नहीं आ रही हैं।
Translate »