Saturday, August 6, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

देवेंद्र फडणवीस लेंगे 2 जुलाई से पहले शपथ, एकनाथ गुट बना रहा यह प्लान; क्या है तैयारी

by Priya Pandey
0 comment

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस कल तक मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। फिलहाल भाजपा कोर कमिटी की बैठक फडणवीस के आवास पर चल रही है और प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल समेत कई सीनियर लीडर मौके पर पहुंचे हैं। इस बैठक में गिरीश महाजन और महाराष्ट्र के चुनाव प्रभारी सीटी रवि भी शामिल हैं।

भाजपा सूत्रों का कहना है कि इस बैठक के बाद देवेंद्र फडणवीस राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते हैं। दरअसल भाजपा की प्लानिंग यह है कि 1 जुलाई तक ही शपथ का कार्यक्रम पूरा हो जाए क्योंकि 2 जुलाई से हैदराबाद में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होने वाली है। इस मीटिंग में फडणवीस और प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल समेत कई सीनियर नेता हिस्सा ले सकते हैं।

इस बीच गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी ने उद्धव ठाकरे के सीएम पद से इस्तीफे को स्वीकार कर लिया है, नई सरकार के गठन तक वह कार्यवाहक सीएम के तौर पर काम संभालते रहेंगे। वहीं शिवसेना के बागी एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों की मीटिंग गोवा के ताज होटल में चल रही है। हालांकि एकनाथ शिंदे ने कहा कि भाजपा के साथ मंत्री पदों को लेकर जो अटकलें लग रही हैं, वे गलत हैं। उन्होंने मराठी में ट्वीट किया, ‘भाजपा के साथ हमारी कोई बात नहीं हो रही है कि किसे कौन सा मंत्री पद मिलेगा। इस बारे में जल्दी ही बात होगी। तब तक मंत्रियों की किसी लिस्ट या फिर अफवाहों पर यकीन न करें।’

बता दें कि इससे पहले सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली थी कि भाजपा 29 मंत्री पद अपने पास रख सकती है। इसके अलावा 13 मंत्री पद एकनाथ शिंदे गुट को दिए जा सकते हैं। इनमें से 8 कैबिनेट मंत्री हो सकते हैं और 5 लोगों को राज्य मंत्री बनाया जा सकता है। यही नहीं चर्चा तो एकनाथ शिंदे को डिप्टी सीएम बनाए जाने की भी थी, लेकिन फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। देवेंद्र फडणवीस पहले ही भाजपा के विधायक दल के नेता हैं। ऐसे में उन्हें अधिकार है कि वह पार्टी की ओर से सरकार बनाने का दावा पेश कर सकें। हालांकि इस बैठक के बाद भाजपा की सहयोगियों के साथ भी एक मीटिंग हो सकती है।

राउत बोले- चुनाव में सिखाएंगे धोखेबाजों को सबक

इस बीच शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि हम चुनाव में उन लोगों को सबक सिखाएंगे, जिन्होंने धोखा दिया है। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे के इस्तीफे से पार्टी भावुक हो गई थी। उन्होंने कहा, ‘कल जब उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री के तौर पर इस्तीफा दिया, तो हम भावुक हो गए थे। सभी लोग उद्धव ठाकरे पर भरोसा करते हैं, हर जाति और धर्म के लोग उनका समर्थन करते हैं। सोनिया गांधी और शरद पवार को उनपर भरोसा है।

About Post Author