April 11, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

तृणमूल कांग्रेस की शिकायत पर चुनाव आयोग का बयान, कहा दुर्भाग्यपूर्ण है आरोपों से लबरेज़ चिठ्ठी

पश्चिमी बंगाल में चुनावी घमासान के बीच नंदीग्राम में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर कथित रूप से हमला हुआ। बताया जा रहा है उन्हें कई चोटें आईं हैं जिसकी पुष्टि डॉक्टरों द्वारा की गई है। इस हमले को लेकर तृणमूल कांग्रेस विपक्षी पार्टियों पर हमलावर थी, जिसकी बाबत उनकी ओर से चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखी गयी। अब गुरुवार की शाम आयोग ने इस सम्बंध में अपना जवाब दिया है। आयोग ने कहा कि ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि चिट्ठी आरोपों से भरी हुई है, यह कहना उचित नहीं है कि चुनाव आयोग ने क़ानून व्यवस्था पर क़ब्ज़ा कर लिया है, यह घटना निंदनीय है और इसकी जाँच होनी चाहिए।
टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने इस घटना की निंदा करते हुए जाँच की माँग की। ब्रायन ने ममता बनर्जी को देश की एकमात्र महिला मुख्यमंत्री बताते हुए कहा कि जो लोग भी इस घटना के पीछे हैं उनपर कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होंने विपक्षी दलों पर सन्देह जताते हुए कहा कि ज़ेड प्लस सुरक्षा होने के बावजूद यह हमला कैसे हुआ यह एक गंभीर विषय है।
बात दें कि ममता बनर्जी नंदीग्राम अपना चुनावी नामांकन भरने के लिए पहुँची थीं जिसके बाद भीड़ का अभिवादन करने के दौरान गिरने से उनके घुटने और कमर पर चोट आई जिसे तृणमूल कांग्रेस हमला बता रही है। इसके बरअक्स भाजपा समेत अन्य विपक्षी पार्टियों ने इसे “नाटक” बताया है और ममता पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। इस आरोप की बाबत भाजपा ने चुनाव आयोग से मामले की जाँच करने का निवेदन भी किया है।
Translate »