October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

जारी है किसानों का भारत बंद, कहाँ क्या हो रहा है?

40 से ज़्यादा किसान संगठनों ने केंद्र सरकार के कृषि क़ानून के विरोध में आज भारत बंद का आह्वान किया है। बंद सुबह 6 बजे से शुरू हो चुका है और शाम 4 बजे तक चलेगा।

 

 

बंद के आयोजकों में से एक संयुक्त किसान मोर्चा ने सभी ट्रेड यूनियनों और सामाजिक संगठनों से भारत बंद को समर्थन देने की अपील की है। यही नहीं कई विपक्षी पार्टियों ने भी किसान आंदोलन के साथ अपनी एकजुटता ज़ाहिर की है।

समाचार एजेंसी बीबीसी के मुताबिक़, ‘बरनाला में सैकड़ों किसान सुबह छह बजे से पहले ही जुट गए और रेलवे ट्रैक जाम कर दिया।’

 

दक्षिण भारत तक भारत बंद का असर

भारत बंद का असर उत्तर भारत के पंजाब व हरियाणा से लेकर दक्षिण भारत के केरल राज्य तक दिखाई पड़ रहा है। समाचार एजेंसी ANI ने कुछ तस्वीरें भी जारी की हैं जिसमें तिरुवनंतपुरम की दुकानें और सड़कें बिल्कुल ख़ाली नज़र आ रही हैं।

 

तिरुवनंतपुरम, केरल

 

केरल में LDF और UDF से जुड़े ट्रेड यूनियनों ने भारत बंद को अपना समर्थन दिया है। राजधानी समेत पंजाब के कई शहरों में बंद के मद्देनज़र सुबह से ही पुलिस तैनात कर दी गई है।

RJD नेता मुकेश भूषण समेत पार्टी के अन्य सदस्यों ने भी बिहार के हाजीपुर में भारत बंद के प्रदर्शन में अपनी प्रतिभागिता दर्ज की।

भारत बंद के कारण अलग-अलग जगहों पर जाम भी लग रहा है। इसके अलावा हाजीपुर-मुज़फ़्फ़रवुर रोड और महात्मा गांधी सेतु पर भी जाम से लोग प्रभावित हो रहे हैं।

 

“हम सिर्फ़ संदेश देना चाहते हैं”

कृषि क़ानूनों के विरोध में किसानों के आंदोलन का केंद्र बने सिंघू बॉर्डर पर आज सुबह से ही हलचल देखने को मिल रही है। प्रदर्शकारी किसान वहाँ सुबह से ही भाषाण दे रहे हैं।

 

 

इस दौरान संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि बंद का प्रभाव एम्बुलेंस सेवा पर नहीं पड़ेगा और उन्हें रोका नहीं जाएगा।

उन्होंने कहा, “हम सिर्फ़ एक संदेश देना चाहते हैं। हमने दुकानदारों से अपील की है कि वो शाम चार बजे तक दुकानें बंद रखें।”

Translate »