Monday, September 26, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर की राजनीति में एंट्री, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव

by MotherlandPost Desk
0 comment

शनिवार को पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने राजनीति में उतरने और चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि वे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे।

पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने कहा कि योगी आदित्यनाथ जिस विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे वहाँ से वह भी चुनाव मैदान में उतरेंगे।

भाजपा प्रवक्ता ने कसा तंज

पूर्व आईपीएस ने अपनी रणनीति का भी खुलासा करते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव में मैंजनता के बीच जाकर योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल में हुई अराजकता और दमनकारी उत्पीड़न को बताऊंगा। उसी पर तंज कसते हुए भाजपा के प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि अमिताभ ठाकुर जबरिया रिटायर आईपीएस हैं। मीडिया की सुर्खियों में आने के लिए वह अनर्गल तरीके से चर्चा में बने रहना चाहते हैं। उन्होंने अपनी नौकरी के दौरान एक भी अच्छा काम नहीं किया। जनता भी उन्हें सबक सिखा देगी।

कौन हैं अमिताभ ठाकुर ?

पूर्व आईपीएस IPS अमिताभ ठाकुर मूलत: बिहार के रहने वाले 1992 बैच के आईपीएस अफसर रहे हैं। । सिविल सर्विसेस की तैयारी करते हुए अमिताभ ठाकुर ने पहले ही अटेम्प्ट में आईआरएस मिला था, लेकिन उन्होंने उसे ज्वाइन नहीं किया और एक बार फिर तैयारी की। उनकी मेहनत रंग लायी और फिर उन्होंने IPS एग्जाम पास किया। अमिताभ ठाकुर बतौर ASP उनकी पहली पोस्टिंग गोरखपुर में हुई थी और उसके बाद उन्होंने बतौर SP पहली पोस्टिंग पिथौरागढ़ में मिली। इसके बाद वे उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भी तैनात रहे। बता दें 23 मार्च 2021 को गृह मंत्रालय के द्वारा अमिताभ ठाकुर को जबरन रिटायर कर दिया गया था।

मुलायम सिंह की ऑडियो लीक कर चर्चा में आये

10 जुलाई 2015 IPS अमिताभ ठाकुर ने पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव पर आरोप लगाया था कि उन्हें मुलायम सिंह यादव ने फोन कर धमकाया और सुधर जाने की नसीहत दी। अमिताभ ने पूरी धमकी को रिकार्ड कर लिया था। वायरल ऑडियो में मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि पिछली बार से ज्यादा बुरी गत बनाउंगा। सुधर जाओ। इस संबंध में तब अमिताभ ने 24 सितंबर 2015 को हजरतगंज कोताली में मुलायम के खिलाफ केस दर्ज कराया था। बाद में मुलायम सिंह ने स्वीकार किया था कि उन्होंने ही अमिताभ को फोन किया था लेकिन धमकाने की मंशा नहीं थी।

About Post Author