December 2, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता फडणवीस ने बताया नवाब मलिक का अंडरवर्ल्ड कनेक्शन, मुंबई बम ब्लास्ट गुनहगारों से सस्ते में खरीदी जमीन।

आर्यन खान क्रूज ड्रग्स केस मामले में एनसीपी नेता नवाब मलिक और एनसीबी अफसर समीर वानखेडे की लड़ाई में अब महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नवाब मलिक के विरोध में इस अखाड़े में कूद पड़े हैं।

Devendra fadnavis
Pic credit-the Indian express

दरअसल, एक ड्रग्स पेडलर के साथ पत्नी का नाम जोड़े जाने पर नाराज महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एनसीपी नेता नवाब मलिक पर कई आरोप लगाए। उन्होंने आरोप लगाया कि मलिक की कंपनी ने उन लोगों से जमीन खरीदी है, जो 1993 में मुंबई बम ब्लास्ट के गुनहगार है। यह जमीन दाऊद इब्राहिम से जुड़ी हुई है।

कुछ दिन पहले पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने नवाब मलिक पर आरोप लगाया था कि नवाब मलिक के कनेक्शन अंडरवर्ल्ड से जुड़े हुए हैं और वह दिवाली के बाद इसका बम फोड़ेंगे। इसके कुछ देर बाद नवाब मलिक ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है। माना जा रहा है कि फडणवीस के द्वारा लगाए गए आरोपों का जवाब देंगे।

फडणवीस ने अंडरवर्ल्ड के 2 चेहरों का किया खुलासा

प्रेस कॉन्फ्रेंस में देवेंद्र फडणवीस ने 2 लोगों के नाम लिए। इनमें सरदार शाह वली खान और मोहम्मद सलीम पटेल का जिक्र किया गया पटना बिष्ट ने बताया कि सरदार साहब अली खान 1993 बम ब्लास्ट का गुनहगार है, जिसे उम्र कैद की सजा मिली थी। टाइगर मेमन का सहयोगी होने के साथ-साथ मुंबई स्टॉक एक्सचेंज और मुंबई महानगर पालिका में बम कहां रखना है, इसकी रेकी भी वह कर रहा था। उसने ही टाइगर मेमन के गाड़ी में RDX लोड कर आया था।
इसके बाद दूसरा शख्स मोहम्मद सलीम पटेल दाऊद इब्राहिम का आदमी था। जिसे देवेंद्र फडणवीस ने हसीना पारकर का ड्राइवर और बॉडीगार्ड बताया। आगे उन्होंने बताया कि हसीना पारकर जब 2007 में गिरफ्तार हुई थी, तभी मोहम्मद सलीम जी उनके साथ गिरफ्तार हुआ था। रिकॉर्ड में पता चला कि दाऊद इब्राहिम के देश छोड़ने के बाद उसकी सारी संपत्ति हसीना पारकर के नाम ही जमा होते थे। जिसका पूरा देखरेख मोहम्मद सलीम पटेल ही करता था। संपत्ति का पावर अर्टार्नी मोहम्मद सलीम पटेल के नाम ही किया जाता था और यह सारी जमीन कब्जे की, की गई जमीन थी।

नवाब मलिक ने लगाए थे यह आरोप देवेंद्र फडणवीस पर

इससे पहले नवाब मलिक ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर ड्रग्स केस के मास्टरमाइंड होने का आरोप लगाया था। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि नीरज गुंडे नाम का व्यक्ति बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस सरकार में सचिन वझे से उगाही का काम करता था। उसे देवेंद्र फडणवीस सरकार का संरक्षण प्राप्त था और साथ ही साथ एमसीबी अल्पसंख्यक मंत्री नवाब मलिक ने यह भी कहा कि नीरज गुंडे नाम का व्यक्ति देवेंद्र फडणवीस के घर भी आता जाता था।

Translate »