May 13, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

कोरोना संक्रमण पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दी मोदी सरकार को हिदायत

देश में कोरोना के कारण हालात बेक़ाबू होते नज़र आ रहे हैं। लगातार सत्ता और व्यवस्था के इंतज़ामों पर सवाल भी उठ रहे हैं, इस बीच भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी को चिट्ठी लिखी है।

Credit- Scroll.in
उन्होंने यह चिट्ठी रविवार को लिखी जिसमें उन्होंने मोदी सरकार को कई सुझाव दिए। उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि टिकाकरण अभियान में तेज़ी लाकर लोगों को इस महामारी की ज़द में आने से बचाया जा सकता है।
कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र मनमोहन सिंह ने वैक्सीनेशन पर ज़ोर देते हुए कहा कि कितने लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जा रही है, उसे देखने के बजाय ये देखा जाना चाहिए कि देश की आबादी के कितने प्रतिशत हिस्से का टिकाकरण किया जा रहा है।
सिंह ने सरकार को याद दिलाया कि देश की कुल आबादी के एक बहुत छोटे हिस्से को कोरोना वैक्सीन मिल पाई है।
उन्होंने सकारात्मक नज़रिए से कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि सही नीति अपनाकर हम बेहतर और बहुत जल्द नतीजे दे सकते हैं।
मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी की लिखी इस चिट्ठी में महामारी की बाबत कई सुझाव दिये। उन्होंने लिखा, “महामारी से लड़ने के लिए हमें कई कदम उठाने चाहिए। लेकिन इन कोशिशों का बड़ा हिस्सा टीकाकरण अभियान में तेजी लाना होना चाहिए।”
Credit- Scroll.com
सिंह ने कहा कि वे अपने ये सुझाव सरकार के विचार के लिए भेज रहे हैं। साथ ही उन्होंने जोड़ा के उनकी भावना रचनात्मक सहयोग की है जिसपर उन्होंने सदैव ही विश्वास और अमल किया है।
ग़ौरतलब है कि पूर्व प्रधानमंत्री के इन सुझावों के बिनाह पर एक दिन पहले ही कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई थी जिसमें महामारी से लड़ने के उपायों पर चर्चा की गई थी।
मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार को ये भी कहा कि उन्हें अगले छः महीने के कोरोना वैक्सीन के ऑर्डर और उसकी आपूर्ति का पूरा ब्योरा सार्वजनिक करना चाहिए कि उसकी डिलीवरी इन सभी राज्यों में कैसे की जाएगी।
बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण के नए मामले हर दिन रिकॉर्ड बना रहे हैं। पिछले चार दिनों में हर दिन संक्रमण के दो लाख से भी ज़्यादा मामले सामने आ रहे हैं।
Translate »