Monday, August 8, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

French Open : बारबोरा क्रेज्सिकोवा बनी क्ले क्वीन, फाइनल में रूस की पाब्ल्यूचेंकोवा को हराया

by Sachin Singh Rathore
0 comment

चेक रिपब्लिक की बारबोरा क्रेज्सिकोवा ने फ्रेंच ओपन में वुमंस सिंगल्स का खिताब जीत लिया है। उन्होंने फाइनलमुकाबले में रूस की अनास्तासिया पाब्ल्यूचेंकोवा को हराया।

25 साल की गैर वरीय खिलाड़ी क्रेजिस्कोवा ने 29 साल की अनास्तासिया पाब्ल्यूचेंकोवा को 6-1, 6-3 से हराकर क्ले कोर्ट पर होने वाले इस इकलौते ग्रैंड स्लैम का खिताब जीता।

ख़िताब के लिए लगे पूरे 40 साल

चेक रिपब्लिक की किसी महिला खिलाड़ी ने 40 साल बाद
फ्रेंच ओपन का खिताब जीता है। उनसे पहले 1981 में हाना मांडलिकोवा ने यह उपलब्धि हासिल की थी। बता दें क्रेज्सिकोवा ने अपने करियर में सिर्फ पांचवीं बार किसी
ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के सिंगल्स इवेंट के मुख्य ड्रॉ में उतरी थीं।

52 ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट और पहला फाइनल

रूस की 29 साल की खिलाड़ी अनास्तासिया पाब्ल्यूचेंकोवा का 52वां ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट था और पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के सिंगल्स इवेंट के फाइनल में पहुंची थीं।

बता दें पाब्ल्यूचेंकोवा ने सबसे अधिक ग्रैंडस्लैम खेलने के बाद फाइनल में पहुंचने का रिकॉर्ड बनाया था। उनसे पहले यह रिकॉर्ड इटली की रॉबर्टा विंसी के नाम था। विंसी अपने 44वें ग्रैंड स्लैम में पहली बार फाइनल में पहुंची थीं।

लगातार छठी बार मिला नया चैंपियन

फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट में लगातार छठे साल महिला
सिंगल्स में कोई नई चैंपियन सामने आई है। बता दें कुल
मिलाकर पिछले 15 ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट में 9 अलग-अलग
महिला चैंपियन बनी हैं।

 

About Post Author