September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने टोक्यो पैरालिंपिक में पहला मैच जीता

नोएडा और ग्रेटर नोएडा के निवासियों के लिए खुशी की खबर है। गौतम बुद्ध के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने गुरुवार की सुबह बैडमिंटन पुरुष सिंगल्स के एसएल-4 मैच में विजय हासिल की है।

पैरा-बै‍डमिंटन खिलाड़ी सुहास एलवाई ने पहले मैच में ही कमाल का प्रदर्शन किया है। उन्होंने जर्मनी के जैन निकलस पॉट को बुरी तरह मात दी है।

टोक्यो में हो रहे पैरालिंपिक में भारत का प्रतिनिधित्‍व करने वाले सुहास एलवाई का गुरुवार की सुबह 6:10 बजे बैडमिंटन पुरुष सिंगल्स के एसएल-4 मैच में जर्मनी के जैन निकलस पॉट से मुकाबला हुआ है। सुहास एलवाई ने जैन निकलस पॉट को 21-9, 21-3 से हराया। यह एसएल-4 ग्रुप ए का मैच था।

सुहास एलवाई ने केवल 19 मिनट में ही जर्मनी के जैन निकलस पॉट को हराया है। अब सुहास एलवाई का दूसरा मुकाबला शुक्रवार को होगा। आपको याद दिला दें कि आईएएस सुहास एलवाई 30 मार्च 2020 को गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी बने थे। आईएएस सुहास एलवाई 2007 बैच के आईएएस अफसर हैं। आईएएस सुहास एलवाई वर्तमान में पुरुष एकल में दुनिया में तीसरे नंबर पर हैं। मार्च 2018 में वाराणसी में आयोजित हुई दूसरी राष्ट्रीय पैरा बैडमिंटन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर नेशनल चैंपियन बने थे।

आईएएस सुहास एलवाई का कहना है कि, वह 2018 की तरफ इस बार भी अपने देश के लिए पैरा ओलंपिक में स्वर्ण पदक हासिल करेंगे। आईएएस सुहास एलवाई एकमात्र ऐसे अधिकारी हैं, जो एशियन बैडमिंटन चैंपियनशिप जीतने वाले आईएएस अफसर बने हैं। जिस समय उन्होंने यह खिताब जीता था। उस समय सुहास एलवाई आजमगढ़ के सिटी मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात थे। उन्होंने खेल की दुनिया में भारत को एक शानदार नाम दिया हैं। उनका नाम पूरी दुनिया की विशेष रिकॉर्ड लिस्ट में शामिल है। सिर्फ सुहास एलवाई ही नहीं बल्कि उनकी पत्नी भी 2019 में मिस इंडिया का खिताब जीत चुकी है।

Translate »