उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस गैंग रेप कांड की पूरी जांच करने के लिए सीबीआई टीम से सिफारिश की थी। जिसके बाद केंद्रीय मंत्रालय ने हाथरस कांड को लेकर सीबीआई टीम को जांच करने के आदेश दे दिए हैं।

हाथरस गैंगरेप कांड: ग़ाज़ियाबाद सीबीआई यूनिट टीम ने एफआईआर दर्ज की जाँच, डीएसपी सीमा पाहुजा को मिली कमान
हाथरस गैंगरेप कांड: ग़ाज़ियाबाद सीबीआई यूनिट टीम ने एफआईआर दर्ज की जाँच, डीएसपी सीमा पाहुजा को मिली कमान

हाथरस गैंग रेप कांड में सीबीआई ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सिफारिश पर एफआईआर दर्ज कर लिया है। सीबीआई ने हाथरस गैंग रेप कांड की पूरी जांच करने का आदेश ग़ाज़ियाबाद सीबीआई यूनिट टीम को दिया है। सीबीआई में हाथरस मामले की जांच ग़ाज़ियाबाद सीबीआई यूनिट में तैनात डीएसपी सीमा पाहुजा करेंगी।  डीएसपी सीमा पाहुजा ने हिमाचल प्रदेश के गुड़िया मामले की जांच की थी।

सीबीआई ने हाथरस गैंगरेप और हत्या केस में एफआईआर दर्ज कर ली है। CBI ने आईपीसी की धाराओं 307, 302, 376(D) और अनुसूचित जाति जनजाति (क्रूरता निवारण) अधिनियम की धारा-3 के तहत केस दर्ज किया है। सीबीआई से मिली जानकारी के मुताबिक लखनऊ जोन की निगरानी में गाजियाबाद ब्रांच मामले की जांच करेगी। आपको बता दें कि 3 अक्टूबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले की जांच सीबीआई से करवाने की सिफारिश की थी। मामले में 10 अक्टूबर को केंद्र सरकार से आदेश जारी होते ही सीबीआई ने केस टेकओवर कर लिया था।

केंद्रीय गृह मंत्रालय से शनिवार की दोपहर सीबीआई मुख्यालय को जांच ट्रांसफर करने का आदेश भेजा गया। जिसके तुरंत बाद सीबीआई मुख्यालय ने शनिवार की देर शाम ही गाजियाबाद शाखा को आदेश भेज दिया। बीती रात 12:32 बजे यह एफआइआर दर्ज की गई है। सीबीआई ने मामले की जांच शुरू कर दी है। जानकारी मिल रही है कि सोमवार को सीबीआई टीम हाथरस में पीड़िता के गांव का दौरा करेगी। इसके बाद परिवार और जेल में बंद आरोपियों से भी सीबीआई के अफसरों की टीम मुलाकात करने जाएगी।