September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान को बनाया जाएगा एपेक्स सेंटर, सीएम योगी आदित्यनाथ ने की घोषणा

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान को एपेक्स सेंटर बनाए जाने की घोषणा की है।

मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने शुक्रवार को निर्देश देते हुए बताया कि, इस दिशा में सरकार की ओर से जल्द ही कार्रवाई शुरू की जाएगी। जिम्स अस्पताल की गवर्निंग बॉडी की बैठक शुक्रवार को संस्थान परिसर में यूपी के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने बुधवार को ग्रेटर नोएडा के जिम्स अस्पताल का निरीक्षण किया। इसके बाद वह गवर्निंग बॉडी की बैठक में शामिल हुए। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में जिम्स के डायरेक्टर राकेश गुप्ता, सभी विभागाध्यक्ष, पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह समेत चिकित्सा विभाग और प्रशासन के अधिकारी शामिल हुए।

बैठक के बाद मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने बताया कि, संस्थान में जल्द ही पैरा मेडिकल कोर्स शुरू करते हुए प्रशिक्षण संस्थान खोलने की योजना है। संस्थान के विस्तार के लिए शासन स्तर से वार्ता कर जिम्स को अतिरिक्त भूमि उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। महत्वपूर्ण सुपर स्पेशियलिटी विभाग को खोलने की भी योजना है। मरीजों को और बेहतर सेवा उपलब्ध कराने के प्रयास किये जाएंगे। इसके लिए डायलिसिस सेंटर और डाइबिटीज के इलाज़ के लिये डायाबिटिक सेंटर को और बेहतर बनाया जाएगा। साथ ही ब्लड बैंक, ब्लड ट्रांसफ्यूजन और हिमोटोलॉजी डिपार्टमेंट शुरू किये जायेंगे।

मुख्य सचिव ने बताया कि, कोरोना काल में प्रदेश भर के अन्य संस्थानों की अपेक्षा जिम्स ने कोरोना मरीजों के इलाज और देखभाल में सबसे अच्छा कार्य किया है। इस संस्थान की गौतमबुद्ध नगर के लोगों ने यहां भर्ती मरीजों ने और जनप्रतिनिधि में भी तारीफ की है। यहां के निदेशक राकेश गुप्ता और डॉक्टर और कर्मचारी मरीजों की सेवा के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं।

मुख्य सचिव ने बताया कि, उनका प्रयास है कि मरीजों को बेहतर इलाज उपलब्ध हो सके। इसके लिए सुपर स्पेशलिटी विंग्स खोले जाएंगे। संस्थान को एपेक्स सेंटर बनाये जाने की यूपी सरकार की योजना है जिस पर कार्य किया जा रहा है। संस्थान में पैरामेडिकल कोर्स की पढ़ाई शुरू करने के लिए स्थान की आ रही अड़चनों को दूर करने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों से बात करके जल्द ही दूर किया जाएगा। टीबी रिसर्च सेंटर के बारे में आज की बोर्ड बैठक में कोई एजेंडा नहीं था इसलिए इस पर कोई चर्चा नहीं हुई।

मुख्य सचिव ने बताया कि जिम्स में BSL-3 लैब स्थापित किए जाने का भी प्रस्ताव है। संस्थान में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टॉफ के खाली पदों को भरने को लेकर मुख्य सचिव ने निर्देश दिए हैं कि इन पदों को अगले एक से दो माह में संविदा के जरिये भरे जाएंगे।

Translate »