April 11, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने पैरामाउंट इमोशंस सोसाइटी में बन रहे अवैध डीजल स्‍टोरेज को ध्वस्त किया

ग्रेटर नोएडा वेस्‍ट स्थित पैरामाउंट इमोशंस सोसायटी के बिल्‍डर और फैसिलिटी टीम ने टी टावर के नीचे डीजल स्‍टोर करने के लिए अवैध निर्माण किया था। सोसायटी के निवासियों ने इस निर्माण का जब विरोध किया तो बिल्‍डर और फैसिलिटी टीम ने कहा कि यह गार्ड के रहने के लिए बनाया जा रहा है, जबकि वहां डीजल के ड्रम रखे गए थे।
अवैध तरीके से निर्माण और वहां डीजल भंडारण के कारण कभी भी आग लगने की बड़ी घटना घट सकती थी। पैरामाउंट इमोशंस सोसायटी में पहले भी दो बार आग लगने की घटनाएं हो चुकी हैं।
बिल्‍डर और प्रीमियम फैसिलिटी टीम से शिकायत के बावजूद जब डीजल भंडारण के लिए किया गया अवैध निर्माण नहीं तोड़ा गया तो सोयासटी के विनय कुमार गुप्‍ता, पैरामाउंट सोसायटी के बीजेपी अध्यक्ष  मुनेश कुमार  सिंह, रोहित गुप्‍ता और अन्‍य ने ग्रेनो के फायर स्‍टेशन ऑफिस में तथा ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी में सीईओ तथा जीएम प्लानिंग के यहां लिखित में शिकायत दर्ज करवाई।
ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के जेई सुनील कुमार त्यागी ने ने मौके का मुआयना किया और निर्माण संबंधी कागजात बिल्‍डर और फैसिलिटी टीम से मांगे, जो वह नहीं दे सके। इसके बाद बिल्‍डर ने 2 अप्रैल को डीजल भंडारण के लिए किया गया अवैध निर्माण ध्‍वस्‍त करना शुरू किया है।
लोगो का कहना है की पैरामाउंट इमोशंस सोसायटी के फायर सेटबैक एरिया को बिल्‍डर ने कार पार्किंग के तौर पर बेच दिया है। बिल्‍डर को दिए गए फायर एनओसी में स्‍पष्‍ट लिखा है कि सेटबैक एरिया में किसी प्रकार का स्‍थाई और अस्‍थाई निर्माण कार्य एवं पार्किंग की अनुमति नहीं होगी। हांलाकि, पैरामाउंट इमोशंस का बिल्‍डर मेसर्स पैरामाउंट प्रॉपबिल्‍ड लिमिटेड सरेआम सकी धज्जियां उड़ाता नजर आ रहा है। सोसायटी के लोग बिल्‍डर के इस कारनामे से सहमे हुए हैं। 
Translate »