उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने शनिवार को ग्रेटर नोएडा में प्रदूषण फैलाने पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और एक बिल्डर के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर एक लाख और बिल्डर पर 5 लाख रुपए का जुर्माना ठोका है।

प्रदूषण फैलाने पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर एक लाख और बिल्डर पर 5 लाख का जुर्माना लगा
प्रदूषण फैलाने पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर एक लाख और बिल्डर पर 5 लाख का जुर्माना लगा

गौतम बुद्ध नगर की उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड अधिकारी डॉ अर्चना का कहना है कि उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड लगातार गौतम बुद्ध नगर जनपद में सख्त निगरानी कर रहा है। जो भी जिले में प्रदूषण फैला रहा है उन पर जुर्माना लगाकर दंडित किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित एक्सप्रेस बिल्डर की साइट पर काम चल रहा है। लेकिन बिल्डर वहां पर घोर लापरवाही बरत रहा है जिसकी वजह से ही साइड पर पड़ी मिट्टी उड़कर फ़ैल रही है। ऐसे में ग्रेटर नोएडा वेस्ट में प्रदूषण बढ़ रहा है। बिल्डर की घोर लापरवाही को देखते हुए उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने शनिवार को बिल्डर पर 5 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है।

इसके अलावा ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर भी एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण गौर सिटी वन सोसायटी के सामने नाले ठीक कर रहा है। वहां पर प्राधिकरण की मिट्टी उड़ रही है जिसकी वजह से प्रदूषण फैल रहा है। वहीं दूसरी ओर ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सेक्टर 2 में प्राधिकरण द्वारा गंगाजल पाइपलाइन का काम चल रहा है। वहां पर भी प्राधिकरण की घोर लापरवाही दिखाई दी है जिसकी वजह से उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने दोनों लापरवाही बरतने पर प्राधिकरण पर 50-50 हजार रुपये का जुर्माना ठोका है। प्राधिकरण पर एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है।