Wednesday, August 3, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

रखरखाव कार्यों में लापरवाही मिलने पर 3 फर्मों पर चार लाख का जुर्माना

by Priya Pandey
0 comment

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने तीन फर्मों पर 4 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। सड़कों के रखरखाव से जुड़े कार्यों में लापरवाही मिलने पर प्राधिकरण के प्रोजेक्ट विभाग ने यह कार्रवाई की है। साथ ही दो सहायक प्रबंधकों से भी स्पष्टीकरण मांगा गया है।


ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना ए.के अरोड़ा ने ईकोटेक 6 वह 7, ईकोटेक 1 एक्सटेंशन वन और 130 मीटर चौड़ी सड़क का जायजा लिया। ईकोटेक-6 व 7 में कई जगह सड़कों पर कर्व स्टोन और पोस्ट फैंसिंग टूटे मिले। सड़क की पटरी ड्रेसिंग व घास की कटाई भी नहीं की गई थी। साथ ही सर्विस रोड व ड्रेन की पटरी का रखरखाव संतोषजनक नहीं मिला। ईकोटेक 1 एक्सटेंशन वन में 60 व 45 मीटर चौड़ी सड़क पर कई जगह कर्व स्टोन व पोस्ट फेंसिंग टूटे मिले। 130 मीटर चौड़ी सड़क पर ड्रेन की पटरी खराब हालत में मिली। कई जगह ड्रेन व कर्व स्टोन भी क्षतिग्रस्त मिले।

इस पर जीएम प्रोजेक्ट ने इन कार्यों के लिए जिम्मेदार फर्मों पर जुर्माना लगाया है। महाप्रबंधक ने ओम साईं एसोसिएट्स पर दो लाख रुपये, गुड इंटरप्राइजेज व नवनीत कंस्ट्रक्शन पर एक-एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। साथ ही रखरखाव कार्यों में लापरवाही पर तीनों फर्मों को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है। महाप्रबंधक ने इस एरिया के दो सहायक प्रबंधकों से भी इस लापरवाही के लिए तीन दिन में स्पष्टीकरण देने को कहा है। साथ ही उनकी कार्यप्रणाली में सुधार ना आने पर प्रतिकूल प्रविष्टि देने की चेतावनी दी है।

जीएम प्रोजेक्ट ने कहा है कि किसी भी विकास कार्यों की गुणवत्ता में खामी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। औचक निरीक्षण कर गुणवत्ता को परखा जाएगा। गड़बड़ी मिलने पर संबंधित कॉन्ट्रैक्टर के साथ ही वर्क सर्किल के अधिकारियों पर भी कार्रवाई की जाएगी।

About Post Author