October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

वायु प्रदूषण रोकने के लिए ऐक्शन में आया ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण, 8 ज़ोन में बांटकर प्रदूषण रोकने का खाका तैयार किया

ग्रेटर नोएडा: सर्दियों में वायु प्रदूषण रोकने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। ग्रेटर नोएडा को आठ जोन में बांटते हुए जोनल अधिकारी तैनात कर दिए हैं। ऐक्शन प्लान को प्रभावी ढंग से लागू कराने के लिए नोडल अफसर की तैनाती की गई है। इसी विषय पर जानकारी देने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ऑडिटोरियम में सोमवार को कार्यशाला भी आयोजित हुई, जिसमें ग्रेनो प्राधिकरण के स्टाफ के अलावा कॉन्ट्रैक्टर व यूपीपीसीबी के अधिकारी शामिल हुए।

 

 

कार्यशाला में शामिल ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना एके अरोड़ा ने बताया कि एनजीटी के नियमों का अक्षरशः पालन कराने के लिए प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के निर्देश पर ग्रेटर नोएडा को आठ जोन में बांटा गया है।

हर जोन का एक जोनल अधिकारी नियुक्त किया गया है। सभी आठ जोन से तालमेल बनाने व वायु प्रदूषण रोकने के नियमों को लागू कराने के लिए नोडल अफसर की तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि 20 हजार वर्ग मीटर से बड़े निर्माण साइटों पर एंटी स्मॉग गन शीघ्र लगाए जाएंगे।

धूल को रोकने के लिए पानी के छिड़काव किया जाएगा। अतिरिक्त टैंकर के इंतजाम क लिए गए हैं। महाप्रबंधक ने बताया कि सभी जोनल अधिकारी एक्शन रिपोर्ट नियमित रूप से नोडल अधिकारी को भेंजेगे। नोडल अधिकारी रिपोर्ट को सीनियर अफसरों को उपलब्ध कराएंगे।

जोनल अधिकारी सभी निर्माण साइटों पर नजर रखेंगे और एनजीटी से सभी तय नियमों का पालन कराएंगे। उन्होंने कहा कि अगर कहीं ट्रैफिक जाम लग रहा हो तो उसकी सूचना यातायात पुलिस को शीघ्र दें। अगर कोई एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करता है तो उस पर तगड़ा जुर्माना भी लगाने का प्रावधान है।

कार्यशाला में मौजूद उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के ग्रेटर नोएडा के क्षेत्रीय अधिकारी भुवन यादव ने ग्रेनो प्राधिकरण के स्टाफ को बताया कि अगर कहीं कूड़ा दिखे तो उसे तत्काल उठा लें, ताकि उसे जलाया न जाए। किसी सड़क पर धूल दिखे तो सिर्फ पानी का छिड़काव ही नहीं, बल्कि धूल को तत्काल उठा लें।

 

 

कार्यशाला में डीजीएम प्रोजेक्ट केआर वर्मा, आरके ओझा समेत प्रोजेक्ट के सभी अधिकारी व कॉन्ट्रैक्टर , जनस्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी, सैनिटरी इंस्पेक्टर व कॉन्ट्रैक्टर मौजूद रहे।

कंट्रोल रूम को दें जानकारी –

वायु प्रदूषण रोकने के लिए नोडल अफसर नियुक्त केआर वर्मा ने बताया कि वायु प्रदूषण रोकने के लिए कंट्रोल रूम का गठन किया गया है। ग्रेटर नोएडा के निवासी कहीं पर भी वायु प्रदूषण दिखे तो इस कंट्रोल रूम पर कॉल कर सूचना सकते हैं। यह नंबर 0120-2336046, 47, 48 व 49 है। इसके अलावा व्हाट्स एप नंबर पर मैसेज दे सकते हैं। मसलन कूड़े में आग लगा हो या फिर कहीं धूल उड़ रहा हो तो व्हाट्स नंबर 8800882124 पर मैसेज, लोकेशन व फोटो डाल दें। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की टीम तत्काल कार्रवाई करेगी।

Translate »