Saturday, August 6, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

नोएडा में हुआ सरस आजीविका मेले का हुआ उद्घाटन, मेले में दिखा आत्मनिर्भर भारत का पूरा होता सपना, 160 स्टाल लगे

by Sachin Singh Rathore
0 comment

ग्रामीण विकास मंत्रालय के सचिव नागेंद्र नाथ सिन्हा ने कहा कि, गांवों और छोटे कस्बों से रिश्ता जोड़े बिना हम पूरी तरीके से आत्मनिर्भर भारत की कल्पना नहीं कर सकते हैं। हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आत्मनिर्भर भारत के लिए पुरजोर आवाहन कर रहे हैं। सरस आजीविका मेला उसी अभियान की एक सकारात्मक पहल है। नागेंद्र नाथ सिन्हा ने नोएडा हॉट में आजीविका सरस मेले का उद्घाटन किया है।

नागेंद्र नाथ सिन्हा ने कहा कि, सरस आजीविका मेला ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा स्वयं सहायता समूह से जुड़ी 8 करोड़ महिलाओं का एक प्लेटफार्म है। जहां पर उन्हें अपने उत्पाद बेचने की मार्केटिंग प्रिंटिंग पैकेजिंग और सोशल मीडिया की जानकारी उपलब्ध होती है। उन्होंने कहा कि, हुनर के साथ-साथ मार्केटिंग का भी होना बहुत जरूरी है। इस सरस आजीविका मेले में स्वयं सहायता महिला समूह के 160 स्टाल लगाए गए हैं। जहां पर महिलाओं के लिए मार्केटिंग कम्युनिकेशन सोशल मीडिया ब्रांडिंग पैकेजिंग आदि की कार्यशाला भी आयोजित की जाएंगी

उन्होंने कहा कि, मंत्रालय ने 3 वर्षों में ढाई करोड़ महिलाओं को इस सरस आजीविका से जोड़ने का लक्ष्य रखा है तथा वर्ष 2030 तक हर बहन की आय एक लाख तक अर्जित करने का लक्ष्य रखा गया है। सरस आजीविका मेला 25 फरवरी से शुरू हुआ है, जो 13 मार्च तक चलेगा। इस मेले में विभिन्न प्रकार के हैंडीक्राफ्ट ज्वेलरी के अलावा कई राज्यों के खाद्य पदार्थों के उत्पादों की प्रदर्शनी भी लगाई गई है। इस मेले में 160 स्टाल लगाए गए हैं।

नागेंद्र नाथ सिन्हा ने फीता काटकर मेले का उद्घाटन किया। इस मौके पर मंत्रालय के संयुक्त सचिव चरणजीत सिंह संयुक्त सचिव डॉ. विश्वजीत बनर्जी संयुक्त सचिव नीता केजरीवाल प्रसाद, निदेशक आरपी सिंहा, उपसचिव एचआर मीणा समेत कई अधिकारी मौजूद थे

About Post Author