Thursday, August 4, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

ग्रेनो वेस्ट के कई ज्वलंत मुद्दों पर ग्रेनो प्राधिकरण के सीईओ से मिला नेफोवा

by Priya Pandey
0 comment

ग्रेटर नॉएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण से प्राधिकरण क्षेत्र में ग्रुप हाउसिंग परियोजनाओं के स्ट्रक्चरल ऑडिट, अण्डरपास, प्राधिकरण में ट्रैफिक सेल की स्थापना , रामलीला मैदान और स्टेडियम के लिए जगह चिन्हित करने के मुद्दे पर नेफोवा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मनीष कुमार और उपाध्यक्ष राहुल गर्ग मिले।

नेफोवा के अध्यक्ष अभिषेक कुमार ने बताया कि कुछ ही दिन पूर्व हुए गुडगाँव और दिल्ली के दर्दनाक हादसों का संज्ञान दिलाते हुए सीईओ का ध्यान ग्रेटर नॉएडा प्राधिकरण क्षेत्र के ग्रुप हाउसिंग सोसाइटियों में आए दिन सोसाइटी निवासी प्लास्टर गिरने और लीकेज की समस्या की ओर दिलाया गया और स्ट्रक्चरल ऑडिट करवाने की माँग की गयी। साथ में यह भी बताया गया कि अगस्त 2021 में उनके आदेश पर जामिया मिलिया के स्ट्रक्चर सेफ्टी सर्टिफिकेट पर ३ महीने की रोक लगाया गया था और जामिया मिलिया को पैनल से निष्कासित कर IIT (दिल्ली, कानपूर या रूड़की) और CBRE को पैनल पर लाया जाना था, लेकिन इस विषय में अभी तक कुछ नहीं हुआ है।

अभिषेक कुमार ने आगे बताया कि ग्रेटर नॉएडा वेस्ट में ट्रैफिक सेल नहीं होने की बात उठायी गयी और निवेदन किया गया है कि प्राधिकरण में एक ट्रैफिक सेल की स्थापना की जाए जिससे ट्रैफिक सम्बंधित शिकायतों के निस्तारण के लिए नियोजन और अभियांत्रिक विभाग पर निर्भरता ख़त्म हो और ट्रैफिक से सम्बंधित समस्याओं का शीघ्रता से निदान हो सके। इसके साथ प्रस्तावित अण्डरपास की निविदा प्रकाशित होने में अत्यधिक विलम्ब का मुद्दा और रामलीला मैदान और स्टेडियम के लिए नियोजन विभाग द्वारा अभी तक जगह चिन्हित ना करने का मुद्दा भी उठाया गया है।

नेफोवा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मनीष कुमार और उपाध्यक्ष राहुल गर्ग ने बताया कि सीईओ से मुलाकात बेहद सकारात्मक रहा। स्ट्रक्चरल ऑडिट और जामिया मिलिया के स्ट्रक्चर सेफ्टी सर्टिफिकेट पर रोक के बारे में सीईओ नरेन्द्र भूषण ने कहा कि जल्दी ही एसीईओ अमनदीप दुली के नेतृत्व में एक कमिटी बना कर IIT दिल्ली, IIT रूड़की और CBRE को पैनल पर लाया जाएगा। साथ ही कमिटी जामिया मिलिया से जारी स्ट्रक्चरल सेफ्टी सर्टिफिकेट के पुनः ऑडिट के सम्बन्ध में फैसला लेगी। अण्डरपास के मामले में सीईओ नरेंद्र भूषण ने बताया कि RITES द्वारा जनवरी 2022 में सर्वे रिपोर्ट दिया गया है जिसके आधार पर निविदा तैयार हो गयी है और जल्दी ही निविदा प्रकाशित किया जाएगा। रामलीला मैदान और स्टेडियम के लिए जगह चिन्हित करने के लिए सीईओ नरेंद्र भूषण ने एसीईओ अमनदीप दुली को नेफोवा द्वारा सुझाए गए जगहों का अवलोकन कर अपनी रिपोर्ट देने को कहा है।

About Post Author