September 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

मुजफ्फरनगर में किसानों की ऐतिहासिक महापंचायत, 5 लाख किसानों के पहुंचने का दावा, कई जिलों की पुलिस तैनात

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जनपद में रविवार को किसानों की ऐतिहासिक महापंचायत हो रही है। इस महापंचायत में 5 लाख किसानों के पहुंचने का दावा किया गया है।

महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पहुंच गए हैं। भारी संख्या में लगातार किसान इस महापंचायत में पहुंच रहे हैं।

केंद्र सरकार द्वारा लागू किए 3 कृषि कानून के विरोध में उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जनपद में स्थित राजकीय इंटर कॉलेज ग्राउंड में किसानों की महापंचायत हो रही है। इस महापंचायत में अभी तक लाखों लोगों के जुटने की जानकारी सामने आ रही है। यह पंचायत अभी तक की सबसे बड़ी महापंचायत है। इस महापंचायत में उत्तर प्रदेश के अलावा पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र और कर्नाटक समेत 15 से भी ज्यादा राज्यों के किसान पहुंच रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में हो रही इस महापंचायत को देखते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस की पसीने छूट गए हैं। मुजफ्फरनगर समेत काफी जिलों की पुलिस मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड में पहुंची है। इस महापंचायत की तैयारी मुजफ्फरनगर में कई दिनों पहले से ही शुरू हो गई थी। महापंचायत के आसपास लंगर लगा हुआ है। महापंचायत में भारी संख्या में महिलाएं और युवा भी पहुंचे है।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत गाजियाबाद के गाजीपुर बॉर्डर से मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड में पहुंचे। उनके साथ सैकड़ों गाड़ियों का काफिला चला। जिसकी वजह से गाजियाबाद के गाजीपुर बॉर्डर से लेकर मुजफ्फरनगर तक सड़कों पर भीषण जाम लगा रहा। राकेश टिकैत का कहना है कि, जब तक मोदी सरकार किसानों के लिए लाए गए 3 कृषि कानूनों को वापस नहीं लेगी। तब तक किसानों का यह प्रदर्शन जारी रहेगा। अब किसान पीछे हटने वाले नहीं है, देश का किसान मोदी सरकार की काली रणनीतियों से जाग चुका है।

Translate »