May 13, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

गौतम बुद्ध नगर में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए पुलिस कमिश्नर और डीएम ने की लोगों के साथ गंभीर बैठक

भारत में एक बार फिर कोरोना वायरस वापस लौटता नजर आ रहा है। गौतम बुद्ध नगर में बढते कोरोना मामलों को देख संक्रमण से सुरक्षित बनाने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस विभाग अलर्ट हो गया है। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह और जिला अधिकारी सुहास एलवाई ने  रविवार को ऑनलाइन बैठक करते हुए जनपद के उद्यमी प्रतिनिधियों, व्यापारियों और आरडब्ल्यूए के सदस्यों के साथ वार्ता की है। जिसमें कोरोना से जागरूक होकर पूरे जनपद में कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित करने का दोनों अधिकारियों के द्वारा आह्वान किया गया है।

ऑनलाइन बैठक करते हुए सभी उद्यमियों, व्यापारियों और आरडब्ल्यूए के प्रतिनिधियों से आह्वान करते हुए कहा है कि देश के अन्य प्रदेशों में कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं और जनपद में भी कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। विगत एक-दो दिन से यहां पर भी कोरोना के मरीज संख्या में बढ़ोतरी हुई है। हम सभी को एक साथ मिलकर एक वर्ष से कोरोना की जंग जिस प्रकार लड़ रहे हैं। आगे भी संयुक्त रुप से व्यापक स्तर पर जनपद में कोरोना वायरस के संक्रमण से नागरिकों को सुरक्षित बनाने के उद्देश्य से व्यापक स्तर पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। ताकि सभी नागरिक जनपद में कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित बने रहे।

पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने कहा कि, सभी औद्योगिक इकाइयों, व्यापारिक संस्थानों और सार्वजनिक स्थानों पर एवं आवासीय सोसायटियों में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का प्रयोग करना, सैनिटाइजेशन आदि का विशेष सतर्कता बरतने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। औद्योगिक इकाइयों में थर्मल स्कैनिंग सैनिटाइजेशन की व्यवस्था सोशल डिस्टेंसिंग आदि व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं।


पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने कहा कि 1 सप्ताह तक नागरिकों को जागरूक करने के उद्देश्य से बृहद जागरूकता कार्यक्रम संयुक्त रूप से सुनिश्चित किया जाए। उसके उपरांत प्रशासन एवं पुलिस को प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए कार्यवाही की जाएगी। दोनों अधिकारियों के द्वारा बैठक में यह भी आह्वान किया गया कि कोरोना टेस्टिंग में सभी के द्वारा स्वास्थ्य विभाग का सहयोग किया जाए और बाहर के प्रदेशों से जो नागरिक आ रहे हैं। उनके संबंध में जिला प्रशासन को जानकारी उपलब्ध कराई जाए ताकि उन्हें ट्रेस करते हुए उनकी कोरोना जांच सुनिश्चित कराई जा सके।

डीएम सुहास एलवाई ने कहा कि जनपद में जागरूकता कार्यक्रम बड़े स्तर पर संचालित करते हुए ऐसा वातावरण तैयार किया जाए कि सभी नागरिक स्वयं से सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए घर से निकलने पर मास्क का आवश्यक रूप से प्रयोग सुनिश्चित करें। वहीं दूसरी ओर बार-बार अपने हाथ धोने पर भी विशेष ध्यान दें। ताकि सभी जनपद वासी कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित बने रहे।

इस बैठक में अपर पुलिस आयुक्त लव कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी दिवाकर सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दीपक अहोरी, उद्यमी प्रतिनिधियों व्यापारिक प्रतिनिधियों आरडब्ल्यूए के प्रतिनिधियों एवं विभागीय अधिकारियों के द्वारा इस महत्वपूर्ण बैठक में प्रतिभाग किया गया और सभी के द्वारा जिला प्रशासन एवं पुलिस का सहयोग करने के लिए आश्वस्त भी किया गया है।

Translate »