अगर आप भी जेवर एयरपोर्ट के पास अपना घर बनाना चाहते हो, तो जरूर पढ़े यह खबर, नहीं तो चुकाना पड़ेगा भारी नुकसान

जब से यमुना सिटी में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट और फिल्म सिटी को बनने की घोषणा हुई है। तब से ही लोग यमुना औद्योगिक विकास प्राधिकरण इलाके में अपना आशियाना बसाना चाहते हैं। लेकिन कुछ लोग गलत लोगों की चपेट में आ जाते हैं। जिसकी वजह से यह अपनी मेहनत की कमाई जालसाज लोगों पर गवा देते हैं।

यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉक्टर अरुण वीर सिंह ने बताया कि, उनको जानकारी मिली थी कि यमुना एक्सप्रेस के पास अलीगढ़ के टप्पल में कॉलोनी बसाई जा रही है। जानकारी मिलने पर उन्होंने प्राधिकरण के अधिकारियों को तत्काल आदेश दिया कि टप्पल इलाके में अवैध रूप से बनी रही कॉलोनी को तुरंत ध्वस्त किया जाए। जिसके बाद अधिकारियों ने जाकर कॉलोनीनाइजर की कॉलोनी को ध्वस्त कर दिया। इसके अलावा कॉलोनी बनाने वाले व्यक्ति के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है।

इस पर सीईओ अरुण वीर सिंह का कहना है कि, जेवर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी को बसने के बाद कुछ कॉलोनीनाइजर लोगों को बहकावे में लाकर बोलते हैं कि यह यमुना प्राधिकरण का प्रोजेक्ट है। यमुना सिटी बसने के बाद यहां पर हजारों परिवार रहेंगे। भोले-भाले लोग इन लोगों की बातों में आ जाते हैं और अवैध कॉलोनियों में अपना आशियाना बसाना के लिए अपनी मेहनत की कमाई दे देते हैं।

सीईओ की अपील है कि लोगों को ऐसे धोखेबाज लोगों से बचना चाहिए। क्योंकि प्राधिकरण ऐसे कॉलोनी नाइजर को कोई भी कॉलोनी बसाने के लिए अनुमति नहीं देता है। लोगों को सावधान रहना चाहिए और ऐसे लोगों की जानकारी मिलने पर तत्काल यमुना प्राधिकरण को सूचित करें।