October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

आईआईटीजीएनएल ने मनाया अमृत महोत्सव,इंटीग्रेटेड टाउनशिप, एमएमटीएच व एमएमएलएच पर हुई चर्चा

आजादी के 75वें वर्षगांठ के उपलक्ष्य में चल रहे अमृत महोत्सव के अंतर्गत शुक्रवार को आईआईटीजीएनएल (इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप ग्रेटर नोएडा लिमिटेड) के दफ्तर में भी कार्यक्रम आयोजित किया गया।आईआईटीजीएनएल के निदेशक अमनदीप डुली की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में आईआईटीजीएनएल के इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप के निवेशक भी शामिल हुए। निवेशकों को इसकी खूबियों से अवगत कराया गया।

दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर (डीएमआईसी) और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के संयुक्त उपक्रम इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप ग्रेटर नोएडा लिमिटेड (आईआईटीजीएनएल) की तरफ से करीब 750 एकड़ में इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप बसाई गई है। शुक्रवार को आईआईटीजीएनएल की तरफ से आयोजित अमृत महोत्सव कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें बताया गया कि इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप देश के सबसे स्मार्ट टाउनशिप में से एक है। इसमें ऑटोमेटेड वेस्ट प्लांट लगाया गया है। हर प्लॉट से पाइप के जरिए कूड़ा प्लांट तक पहुंचेगा और प्रोसेस होकर कंपोस्ट में तब्दील हो जाएगा। हर प्लांट पर उसके लिए प्वाइंट दिए गए हैं। पेयजल को छोड़कर शेष जरूरत कासना स्थित 137 एमएलडी एसटीपी से शोधित पानी से पूरी होगी। प्लग एंड प्ले के आधार पर बनी इस टाउनशिप में उद्यमी तत्काल प्लांट लगाकर काम शुरू कर सकता है।

इस टाउनशिप में साइकिल टू वर्क, 24 घंटे बिजली, एलईडी लाइट जैसी सुविधाएं मौजूद हैं। यह टाउनशिप सीसीटीवी से लैस होगी। इस टाउनशिप की सुरक्षा के लिए इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम बनाया जाएगा। निवेशकों ने भी इस टाउनशिप की सराहना की। कार्यक्रम में मौजूद आईआईटीजीनएल के निदेशक अमनदीप डुली ने इस टाउनशिप को और बेहतर बनाते हुए आगे बढ़ाने की बात कही। गौरतलब है कि इस टाउनशिप में अब तक पांच बड़ी कंपनियां अपना प्लांट लगा चुकी हैं। इनमें हायर इलेक्ट्रॉनिक्स, फॉर्मी मोबाइल, सत्कृति इंफोटेनमेंट, चेनफेंग (एलईडी कंपनी) और जे वर्ल्ड इलेक्ट्रॉनिक्स शामिल हैं। ये कंपनियां 3700 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश कर रही हैं और करीब 10 हजार युवाओं को रोजगार देंगी।

इनके साथ ही देश-विदेश के कई बड़ी कंपनियां आईआईटीजीएनएल में निवेश की इच्छुक हैं। कार्यक्रम में आईआईटीजीएनएल के अंतर्गत प्रस्तावित मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब (एमएमटीएच) व लॉजिस्टिक हब समेत कई आगामी परियोजनाओं के बारे में भी जानकारी दी गई। मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट हब के बनने से लोगों के लिए जहां रेल, मेट्रो व बस आदि परिवहन की सुविधाएं मिलने लगेंगी, वहीं मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक हब (एमएमएलएच) उद्योगों के माल की ढुलाई की राह आसान हो जाएगी।

Translate »