September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

ग्रेटर नोएडा में राकेश टिकैत की महापंचायत में 15 हजार किसान उमड़े, कहा- किसानों की नाराजगी चुनाव में पड़ेगी भारी 

केंद्र सरकार द्वारा देश में लागू किए गए तीन कृषि कानून के विरोध में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने ग्रेटर नोएडा में किसानों की महापंचायत को संबोधित किया है।

राकेश टिकैत की इस महापंचायत में नोएडा, ग्रेटर नोएडा, जेवर और आसपास के इलाकों के करीब 15 हजार किसान उपस्थित रहे हैं।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने ग्रेटर नोएडा में जेवर टोल प्लाजा के पास किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि, देश में अब कोई सरकार नहीं बल्कि मोदी अपनी कंपनी चला रहा है। अगर केंद्र में भाजपा सरकार होती तो किसानों की जरूर सुनती, लेकिन केंद्र में मोदी सरकार बैठी है। मोदी के आंखों पर सत्ता की पट्टी बंधी हुई है। जो देश के किसानों को कुछ नहीं समझ रहा है। जिसका असर चुनाव में देखने को मिलेगा।

राकेश टिकैत ने कहा कि, मोदी सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानून पूरी तरीके से किसान के विरोध में है। पूरे देश के किसान इस समय तीन कृषि कानून को समाप्त करने के लिए सड़कों पर बैठे हैं। किसानों की मांग है कि, जब तक मोदी सरकार किसानों के इस कानून को वापस नहीं लेगी। तब तक यह प्रदर्शन ऐसे ही चलता रहेगा।

राकेश टिकैत ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि, जब देश का किसान कोई नए कानून को लेना नहीं चाहता तो मोदी उस कानून को क्यों थोप रहा है। यह किसानों का हक का हनन है। जिसको देश का किसान बर्दाश नहीं करेगा। इसका असर सरकार को चुनाव में मिलेगा। उन्होंने कहा कि, देश का किसान किसी भी हालत में पीछे नहीं हटने वाला है। किसानों की यह नाराजगी चुनाव में भारी पड़ेगी।

Translate »