December 2, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

2020 में कोरोना से ज़्यादा भारत में आत्महत्या से गई लोगों की जान! NCRB ने किया ख़ुलासा

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) की ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक़, 2020 में महामारी के ख़िलाफ़ संघर्षरत भारत ने covid-19 संक्रमण की तुलना में आत्महत्या से अधिक लोगों को खोया है।

Suicide/Reuters

NCRB के अनुसार, देश में पिछले साल 1.53 लाख से अधिक आत्महत्याएं हुई हैं, जो पिछले 10 सालों में सबसे ज़्यादा है। दूसरी ओर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, कोरोनोवायरस संक्रमण ने 2020 में करीब 1.49 लाख लोगों की जान ले ली।

एनसीआरबी के आंकड़ों से पता चलता है कि आत्महत्या के पीछे सबसे बड़ी वजह बीमारी थी, लेकिन कुल आत्महत्याओं में दिहाड़ी मज़दूरों की हिस्सेदारी सबसे ज़्यादा थी।
2020 में कुल 37,666 दैनिक वेतन भोगी श्रमिकों की आत्महत्या से मौत हो गई जोकि कुल आत्महत्याओं का एक चौथाई हिस्सा है।

दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी लॉकडाउन से सबसे ज़्यादा प्रभावित हुए थे। उन्होंने न केवल बड़े शहरों में अपनी आय का स्रोत खो दिया, जहां वे रह रहे थे, बल्कि अपने परिवारों से मिलने में भी बेहद कठिनाई का सामना करना पड़ा क्योंकि देशभर में लगे लॉकडाउन के कारण सब तरह के परिवहन साधन पूरी तरह बंद हो गए थे।

कुल आत्महत्याओं में 18 प्रतिशत (27,623) मौतों का कारण कोरोना माहमारी थी।
यह भी ध्यान रखना ज़रूरी है कि पिछले हफ़्ते जारी रिपोर्ट के अनुसार लगभग 16 हज़ार आत्महत्याओं के कारण अज्ञात थे, इसके अलावा अन्य 15 हज़ार मौतों को “अन्य कारणों” की श्रेणी में रखा गया था।

अगर लिंग के संदर्भ में देखें को महिलाओं की तुलना में पुरुषों ने ज़्यादा संख्या में आत्महत्या की है जो कुल मामलों का 71 फ़ीसद है। वहीं 45 हज़ार महिलाओं की मौत आत्महत्या से हुई। ग़ौरतलब है कि आत्महत्या करने वालों में से 22 ट्रांसजेंडर्स थीं।

ऑंखड़ों से पता चलता है कि आत्महत्या से मरने वाली कुल महिलाओं में से 50 फ़ीसद (22,372) हाउस वाइफ़ थीं यानी कुल आत्महत्याओं में गृहणियों की हिस्सेदारी क़रीब 15 फ़ीसद है।

एनसीआरबी के आंकड़ों से पता चलता है कि कम से कम 12,526 छात्रों की मौत आत्महत्या से हुई, जो कुल मौतों में  8 फ़ीसद से ज़्यादा है, वहीं कृषि क्षेत्र में लगे 10,677 लोगों ने भी अपना जीवन ख़त्म कर लिया।

कई हस्तियों की आत्महत्या से मौत

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत सहित कई हस्तियों की 2020 में आत्महत्या से मृत्यु हो गई। 34 वर्षीय अभिनेता जून में मुंबई में अपने बांद्रा अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे। मशहूर हस्तियों की सूची में अभिनेता समीर शर्मा भी शामिल थे, जो टेलीविजन शो “ज्योति” और “कहानी घर घर की” में अपनी भूमिकाओं के लिए जाने जाते थे।

44 वर्षीय समीर को अगस्त 2020 में उनके मुंबई स्थित आवास पर लटका पाया गया था। यही नहीं टेलीविजन अभिनेत्री प्रेक्षा मेहता भी अपने आवास में मृत पाई गईं थीं। उन्होंने पंखे से लटक कर फांसी लगा ली थी।

मदद के लिए क्या करें?

अगर आपको या आपके किसी जानने वाले को मदद की ज़रूरत है, तो इनमें से किसी भी हेल्पलाइन पर कॉल करें: आसरा (मुंबई) 022-27546669, स्नेहा (चेन्नई) 044 24640050, सुमैत्री (दिल्ली) 011-23389090, कूज (गोवा) 0832-2252525, जीवन (जमशेदपुर) 065-76453841, परीक्षा (कोच्चि) 048-42448830, मैत्री (कोच्चि) 0484-2540530, रोशनी (हैदराबाद) 040-66202000, लाइफ़लाइन 033-64643267 (कोलकाता)

Translate »