Friday, August 12, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

देश-विदेश: यूक्रेन और रूस संकट पर आख़िरकार आया अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का आदेश

by Disha
0 comment

विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने एक बयान में कहा कि अमेरिका ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) के आदेश का स्वागत किया है जिसमें रूस को बुधवार को यूक्रेन में अपने सैन्य अभियानों को स्थगित करने के लिए कहा गया है।

 

Reuters

 

प्राइस ने कहा, “हम न्यायालय के आदेश का स्वागत करते हैं और आदेश का पालन करने के लिए रूसी संघ से आह्वान करते हैं, यूक्रेन में अपने सैन्य अभियानों को तुरंत बंद कर दें, और यूक्रेन में निर्बाध मानवीय पहुंच स्थापित करें।”

उन्होंने आगे जोड़ा, “संयुक्त राज्य अमेरिका यूक्रेन के समर्थन में सहयोग और भागीदारी के साथ कार्य करना जारी रखेगा।”

बता दें कि इससे पहले, हेग में आईसीजे ने फ़ैसला सुनाया कि मामले में अंतिम निर्णय लंबित रहने तक, रूस को यूक्रेन के क्षेत्र में 24 फरवरी को शुरू हुए सैन्य अभियानों को स्थगित कर देना चाहिए।

यूएस प्रेस के बयान ने आदेश के कुछ हिस्सों पर प्रकाश डाला जिसमें अदालत की “यूक्रेन में होने वाली असीमित मानवीय त्रासदी” और “जीवन और मानव पीड़ा की निरंतर हानि” के बारे में भी तेज़ी से जागरूकता फैलाना शामिल है।

कोर्ट ने यह भी कहा कि उसके पास कोई ऐसा सबूत नहीं है जो रूस के इस दावे की पुष्टि कर सके कि यूक्रेन ने डोनबास क्षेत्र में नरसंहार किया है।

ग़ौरतलब है कि यूक्रेन ने 26 फरवरी को ICJ में एक आवेदन दायर किया था जिसमें नरसंहार के अपराध की रोकथाम और सज़ा पर कन्वेंशन के तहत रूसी संघ के ख़िलाफ़ कार्यवाही शुरू करने का अनुरोध किया गया था।

यूक्रेन “रूस के निराधार दावों” को संबोधित करने की कोशिश करता है कि यूक्रेन के लुहान्स्क और डोनेट्स्क क्षेत्र में नरसंहार हुआ है और यह स्थापित करता है कि रूस के पास उन “झूठे” दावों के आधार पर सैन्य कार्रवाई करने का कोई वैध आधार नहीं है।

इसके अलावा यूक्रेन ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त सीमाओं के भीतर यूक्रेन के लोगों के साथ-साथ यूक्रेन की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को बनाए रखने और अपूरणीय क्षति को कम करने व यूक्रेन के अधिकारों को संरक्षित करने के लिए अनंतिम उपायों की ओर इशारा करते हुए आईसीजे से अपने अधिकार का प्रयोग करने का भी अनुरोध किया था।

आईसीजे ने अपने आदेश में कहा, “रूसी संघ 24 फरवरी 2022 को यूक्रेन के क्षेत्र में शुरू हुए सैन्य अभियानों को तुरंत निलंबित करे।”

About Post Author