September 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कोरोना के मद्देनज़र बुलाई आपातकालीन बैठक

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शुक्रवार को COVID-19 और तीसरी लहर के दौरान बच्चों पर इसके प्रभाव की संभावना के बारे में विशेषज्ञों के साथ एक आपातकालीन बैठक बुलाई।

 

 

विशेषज्ञों के सुझावों के अनुसार, राज्य सरकार ने 23 अगस्त से स्कूल खोलने का फ़ैसला किया था, लेकिन सीएम ने अपने आधिकारिक दौरे से दक्षिण कन्नड़ लौटने के तुरंत बाद उनके साथ एक आपात बैठक बुलाई है। बोम्मई ने कहा कि विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि COVID-19 महामारी की तीसरी लहर के दौरान बच्चे प्रभावित होंगे, क्योंकि अब तक उनका टीकाकरण नहीं हो सका है।’

उन्होंने कहा, “हमने बच्चों की पूरी निगरानी के लिए उडुपी और हावेरी ज़िलों में वात्सल्य योजना शुरू कर दी है। हम बच्चों की पोषण शक्ति की जांच के लिए बाल स्वास्थ्य शिविर आयोजित करेंगे, और पोषण की कमीं और कम विकास को दूर करने लिए सभी आवश्यक उपचार करेंगे।”

उन्होंने आगे कहा, “हमने योजना पर काम कर रहे सभी संबंधित अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया है, और बच्चों को इस वायरस से बचाने की कोशिश करेंगे। सभी ज़िला अस्पतालों को बाल चिकित्सा ICU की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है।”

बता दें कि कर्नाटक में 1 अगस्त से 11 अगस्त तक, 0-19 आयु वर्ग के 543 बच्चे कथित तौर पर COVID-19 से संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमित बच्चों में से 210 बच्चे 0-9 आयु वर्ग के थे, और 333 बच्चे 10-19 आयु वर्ग के थे। हालाँकि, 0-19 आयु वर्ग में COVID-19 से किसी की भी मृत्यु नहीं हुई है। रिपोर्ट बताती है कि इनमें वायरस के हल्के लक्षण ही दिखे हैं।

Translate »