January 21, 2022

MotherlandPost

Truth Always Wins!

“…नेतृत्व एक विशेष व्यक्ति का ही दैवीय हक़ नहीं है” एक बार फिर प्रशांत किशोर ने साधा राहुल गांधी पर निशाना

बीते कुछ दिनों से चुनवी रणनीतिकार प्रशांत किशोर कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व पर निशाना साधने के कोई मौक़ा नहीं छोड़ रहे हैं। गुरुवार को एक ट्वीट करते हुए प्रशांत किशोर ने पार्टी के नेतृत्व पर न केवल सवाल उठाया बल्कि राहुल गांधी की कथित दावेदारी पर भी हमला बोला।

 

 

उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘कांग्रेस जिस विचार और जगह का प्रतिनिधित्व करती है वो एक मज़बूत विपक्ष के लिए अहम है। लेकिन कांग्रेस का नेतृत्व एक विशेष व्यक्ति का ही दैवीय हक़ नहीं है ख़ासकर तब जब पार्टी पिछले 10 सालों में अपने 90% चुनाव हार चुकी है। विपक्ष के नेतृत्व का चुनाव लोकतांत्रिक तरीक़े से होने दें।

 

 

कइयों का मनना है कि इस बात से किशोर का आशय बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की ओर से विपक्ष को तैयार करने का है। ग़ौरतलब है कि आगामी 2024 आम चुनावों में बीजेपी के सामने एक मज़बूत विपक्ष को खड़ा करने के लिए ममता बनर्जी लगातार सक्रिय हैं। दिल्ली के बाद हाल ही में उन्होंने मुंबई का दौरा भी किया जहाँ उन्होंने एनसीपी प्रमुख शरद पवार, शिवसेना नेता आदित्‍य ठाकरे और संजय राउत से मुलाक़ात की।

बता दें कि इससे पहले गोआ में एक बातचीत के दौरान प्रशांत किशोर ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा था कि बीजेपी कई दशकों तक भारतीय राजनीति के केंद्र में रहेगी और राहुल गांधी की समस्या ये है कि वे इस बात तो नहीं समझते।

Translate »