Wednesday, August 3, 2022

MOTHER LAND POST

MOTHERLANDPOST

जोमैटो पर क्यों भड़के मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा?

by Priya Pandey
0 comment

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जोमैटो की 10 मिनट में भोजन पहुंचाने का वादा करने वाली नई सेवा को डिलीवरी करने वाले और सड़क पर चलने वाले लोगों के जीवन को खतरे में डालने वाला करार दिया। नरोत्तम मिश्रा ने जोमैटो कंपनी को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन किया तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि भोपाल व इंदौर शहर में 10 मिनट में फूड डिलीवरी कराने के दावे को पूरा करने के लिए जोमैटो के डिलेवरी ब्वॉय हवा की गति से वाहनों को दौड़ाते हैं। इस दौरान वे ट्रैफिक नियमों को तोड़ते हैं और हमेशा हादसे की आशंका बनी रहती है। मंत्री ने कंपनी से इसमें तुरंत बदलाव करने के लिए कहा है।

नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को यहां पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि जोमैटो या किसी भी कंपनी को यातायात नियमों का उल्लंघन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इंस्टेंट डिलीवरी प्रक्रिया के दौरान होने वाले यातायात नियमों के उल्लंघन या हादसों के लिए कंपनी को जिम्मेदार ठहराया जाएगा। मिश्रा ने कहा कि जोमैटो की 10 मिनट में खाना पहुंचाने की सेवा अपने कर्मचारियों (डिलीवरी सहयोगी) के साथ-साथ अन्य लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ करने जैसा है।

लोगों के लिए होगी खतरनाक: मिश्रा

मिश्रा ने कहा, ‘जोमैटो या किसी को भी मध्य प्रदेश में यातायात नियमों का उल्लंघन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। किसी भी हादसे की जिम्मेदारी कंपनी की होगी इसलिए आप कृपा कर ऐसा न करें।’ उन्होंने कहा कि भोजन देने वाला व्यक्ति शहर की बीच से केवल तेजी और खतरनाक तरीके से गाड़ी चलाकर ही 10 मिनट में चार किलोमीटर के गंतव्य तक पहुंच सकता है। इसलिए यह सेवा लोगों के जीवन के लिए खतरनाक होगी।

About Post Author