October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

महाराष्ट्र में MVA सरकार ने किया लखीमपुर में किसानों की हत्या के विरोध में 11 अक्टूबर को राज्यव्यापी बंद का ऐलान

महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्याओं के विरोध में सोमवार, 11 अक्टूबर को राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया है। राकांपा अध्यक्ष जयंत पाटिल ने बुधवार को इसकी घोषणा की।

 

Uddhav Thakrey & Sharad Pawar/outlook

 

यह फ़ैसला लखीमपुर की दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत की कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ बैठक के बाद आया है।

बता दें कि लखीमपुर खीरी ज़िले के तिकुनिया इलाके में रविवार को चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई। यह घटना उस समय हुई जब किसान उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध कर रहे थे।

 

एकजुट विपक्ष, समय की माँग

राउत ने कहा कि एकजुट विपक्ष, समय की मांग है। राउत ने कहा, “मैं राहुल गांधी से मिला। मैंने उनसे लखीमपुर की घटना पर भी चर्चा की है। विपक्ष की एकता देश के लिए और लोकतंत्र को बचाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।”
इससे पहले दिन में, महाराष्ट्र कैबिनेट ने किसानों की मौत की निंदा करते हुए एक प्रस्ताव पारित किया और लखीमपुर विधायकों ने एक मिनट का मौन रखा।

किसान संकट से निपटने को लेकर शिवसेना ने भी मोदी सरकार की आलोचना की है। शिवसेना के मुखपत्र सामना ने भाजपा नीत केंद्र पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को अवैध रूप से हिरासत में लेने का आरोप लगाया। सामना में ये भी सवाल किया गया कि उन्हें किसानों से मिलने की अनुमति क्यों नहीं दी गई।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और वर्तमान विपक्ष के नेता (महाराष्ट्र विधानसभा) देवेंद्र फडणवीस, यूपी सरकार के समर्थन में सामने आए। इस बात पर ज़ोर देते हुए कि (यूपी) सरकार मामले की जांच शुरू करने में सक्षम है, फडणवीस ने कहा, “यूपी सरकार लखीमपुर खीरी घटना की जांच करेगी। महा विकास अघाड़ी सरकार को महाराष्ट्र में किसानों की दुर्दशा पर एक नज़र डालनी चाहिए।”

Translate »