October 26, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

दादरी सम्राट मिहिर भोज प्रतिमा मामले पर मायावती और अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ पर साधा निशाना, कहा- गुर्जर समाज को ठेस पहुंचाई

गौतम बुद्ध नगर के दादरी में सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा के अनावरण को लेकर हुए बवाल पर अब उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मायावती ने भी भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साध दिया है।

मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा है कि, बीते 22 सितंबर 2021 को गुर्जर सम्राट मिहिर भोज की दादरी में लगाई गई प्रतिमा का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुर्जर शब्द हटी हुई स्थिति में उसका अनावरण किया है। इससे गुर्जर समाज की भावनाओं को जबरदस्त ठेस पहुंची है और वह काफी दुखी व आहत है।

इतना ही नहीं बल्कि गुर्जर समाज के इतिहास के साथ ऐसी छेड़छाड़ करना अति निन्दनीय और सरकार इसके लिए माफी मांगे व साथ ही प्रतिमा में इस शब्द को तुरन्त जुड़वाए। यही बहुजन समाज पार्टी की मांग है।

वहीं, दूसरी ओर अखिलेश यादव ने कहा है कि, ये इतिहास में पढ़ाया जाता रहा है कि सम्राट मिहिर भोज गुर्जर-प्रतिहार थे पर भाजपाइयों ने उनकी जाति ही बदल दी है। जो काफी निंदनीय है। उन्होंने आगे कहा कि, छलवश भाजपा स्थापित ऐतिहासिक तथ्यों से जान-बूझकर छेड़छाड़ व सामाजिक विघटन करके किसी एक पक्ष को अपनी तरफ़ करती रही है। हम हर समाज के मान-सम्मान के साथ हैं।

Translate »