October 24, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

सम्राट मिहिर भोज मामले में आया नया मोड़, भाजपा राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर ने किए प्रतिमा पर पुष्प अर्पित, दुबारा से लिखा मिला गुर्जर शब्द

सम्राट मिहिर भोज मामले में मंगलवार को एक नया मोड़ सामने आया है। सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा को लेकर 22 सितंबर से विवाद चल रहा था कि भाजपा नेताओं ने मिहिर भोज के नाम के आगे से गुर्जर शब्द हटा दिया। मंगलवार की सुबह भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर दादरी मिहिर भोज इंटर कॉलेज पहुंचे और उन्होंने उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। इस दौरान एक खास बात सामने आई।

 

 

जिस समय सुरेंद्र सिंह नागर ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। उस समय उनके नाम के आगे गुर्जर प्रतिहार लिखा हुआ मिला। इस मामले में सुरेंद्र सिंह नागर का कहना है कि, सम्राट मिहिर भोज के नाम के आगे से गुर्जर शब्द हटा ही नहीं था। सिर्फ और सिर्फ विपक्ष ने भारतीय जनता पार्टी और योगी आदित्यनाथ को लेकर भ्रम फैलाने का काम किया है। सुरेंद्र सिंह नागर ने कहा कि, सम्राट मिहिर भोज के नाम के आगे पहले से ही गुर्जर शब्द लिखा हुआ था और आज भी गुर्जर प्रतिहार शब्द लिखा हुआ है।

इस पर अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा के जिलाध्यक्ष श्याम सिंह भाटी का कहना है कि, 26 सितंबर को दादरी में हुई गुर्जरों की महापंचायत के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेता डर गए हैं और उन्होंने खुद रात के समय आकर सम्राट मिहिर भोज के नाम के आगे गुर्जर शब्द लिखवाया है। श्याम सिंह भाटी का कहना है कि, गुर्जर समाज की पंचायत होने के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर डर गए। रात करीब 3:00 बजे उन्होंने यहां पर आकर सम्राट मिहिर भोज की शीला को बदलवाया है। जिस समय योगी आदित्यनाथ ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया था। उस समय गुर्जर शब्द लिखा हुआ नहीं था।

Translate »